ब्रेकिंग : धामी सरकार ने किया बजट पेश, इन विभागों में परिवर्तन पर सरकार का रहा फोकस, देखें Live Video

ब्रेकिंग : धामी सरकार ने किया बजट पेश, इन विभागों में परिवर्तन पर सरकार का रहा फोकस, देखें Live Video

Live :-

रिपोर्ट, संदीप कुमार, देहरादून

उत्तराखंड विधानसभा सत्र में वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने सदन में बजट सरकारी विभागों में परिवर्तन पर सरकार का मेन फोकस रहा।

ये हैं सरकारी विभागों में परिवर्तन पर फोकस

1. कर्षि क्षेत्रों को बढ़ावा देने पर कार्य।

2. बेहतर कनेक्टिविटी बनाने पर कार्य।

3. पूंजीगत परियोजनाओं से बनेगा राज्य का भविष्य सुनहरा।

4. केंद्र पोषित व बाह्य सहायतित योजनाओं को तेजी से लागू करेंगे।

5. 1 हजार 930 करोड़ की योजना से टिहरी झील का होगा विकास।

6. ग्रामीण महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने पर कार्य।

7. 1 हजार 750 की लागत से देहरादून से मसूरी परियोजना की भारत सरकार से स्वीकृति।

8. 2 हजार 812 करोड़ की अर्बन योजना की स्वीकृति।

9. स्वच्छ पेयजल के लिए जायका के माध्यम से 1 हजार 600 करोड़ की योजना।

10. 14 हजार 387 करोड़ की वाह्य सहायतित योजना की सौगात केंद्र ने दी है।

विधानसभा बजट सत्र के पहले दिन धामी 2.0 सरकार ने बजट पेश कर दिया है। दरअसल, वित्त मंत्री प्रेमचंद्र अग्रवाल ने गढ़वाली परिधान पहनकर विधानसभा पहुंचे। जिसमें करीब 63 हजार करोड़ का बजट वित्त मंत्री ने पेश किया। आपको बता दे कि विधानसभा बजट सत्र के पहले दिन सुबह 11 बजे सदन की कार्यवाही शुरू हुई।

हालाकि, सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष आक्रामक भूमिका में नजर आया। जिसके बाद प्रश्न काल और फिर शाम 4 बजे वित्त मंत्री प्रेमचंद्र अग्रवाल ने गढ़वाली परिधान पहनकर बजट को पेश किया।

वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने सदन में पेश किया बजट :-

1. सरकारी विभागों में नवपरिवर्तन पर सरकार का फोकस।

2. कर्षि क्षेत्रों को बढ़ावा देने पर कार्य।

3. बेहतर कनेक्टिविटी बनाने पर कार्य।

4. पूंजीगत परियोजनाओं से बनेगा राज्य का भविष्य सुनहरा।

5. केंद्र पोषित व बाह्य सहायतित योजनाओं को तेजी से लागू करेंगे।

6. 1 हजार 930 करोड़ की योजना से टिहरी झील का विकास।

7. ग्रामीण महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने पर कार्य।

8. 1 हजार 750 की लागत से देहरादून से मसूरी परियोजना की भारत सरकार से स्वीकृति।

9. 2 हजार 812 करोड़ की अर्बन योजना की स्वीकृति।

10. स्वच्छ पेयजल के लिए जायका के माध्यम से 1 हजार 600 करोड़ की योजना।

11. 14 हजार 387 करोड़ की वाह्य सहायतित योजना की सौगात केंद्र ने दी है।

 

उत्तराखंड