ब्रेकिंग : जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को 10 दिन के अन्दर समस्त चिकित्सालयों में उपलब्ध उपकरणों के संचालन को सुनिश्चित करने के दिए निर्देश

ब्रेकिंग : जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को 10 दिन के अन्दर समस्त चिकित्सालयों में उपलब्ध उपकरणों के संचालन को सुनिश्चित करने के दिए निर्देश

अल्मोड़ा/इन्फो उत्तराखंड

जिलाधिकारी वन्दना की अध्यक्षता में चिकित्सा विभाग की बैठक नवीन कलेक्ट्रेट में सम्पन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि जनपद के समस्त राजकीय चिकित्सालयों में निष्प्रोज्य खड़े वाहन/एम्बुलेन्स को तत्काल सम्भागीय परिवहन अधिकारी के माध्यम से तकनीकी परीक्षण कराते हुए जिन वाहनों को अत्यन्त कम व्यय में मरम्मत किये जाने के उपरान्त प्रयोग में लाया जा सकता है, ऐसे वाहनों की सूची पृथक से तैयार करेंगे तथा मरम्मत हेतु आगणन/प्रस्ताव तैयार कर आगामी प्रबन्धन समिति की बैठक में स्वीकृति हेतु प्रस्तुत करना सुनिश्चित करेंगे।

 

बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 आर0सी0 पंत ने जिलाधिकारी को चिकित्सालयवार खराब उपकरणों की जानकारी दी। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि जनपद के समस्त चिकित्सालयों का संकलित विवरण तैयार किया जाय तथा जो उपकरण मरम्मत योग्य नहीं है उनकी नीलामी हेतु नियमानुसार समिति का गठन किया जाय जिसमें एक सदस्य वित्त विभाग एक तकनीकी विशेषज्ञ को अनिवार्य रूप से सम्मलित किया जाय। कायाकल्प योजना की समीक्षा के दौरान उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी एवं क्वालिटी मैनेजर, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन को निर्देश दिये कि जनपद के समस्त चिकित्सालयों का पृथक-पृथक विवरण तैयार करें जिसमें कायाकल्प योजना के समस्त मानकों का उल्लेख किया जायेगा तथा चिकित्सालय उक्त मानक को पूर्ण करता है या नहीं का उल्लेख किया जायेगा ताकि तद्नुसार ही चिकित्सालय की आवश्यकता तथा प्राथमिकता के आधार पर कार्यों का चयन करते हुए आगामी जिला योजना से धनराशि की मॉग की जा सके।

 

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि 10 दिन के अन्दर जनपद के समस्त चिकित्सालयों में उपलब्ध उपकरणों के संचालन का प्रशिक्षण चिकित्सालय में कार्यरत कम से कम 02 कर्मचारियों को प्रदान करते हुए चिकित्सालय में उपलब्ध उपकरण एवं कक्ष के बाहर उपकरण को संचालित करने वाले दोनों कर्मचारियों के नाम व माबाईल बड़े अक्षरों में चस्पा कराया जाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने निर्देश दिये कि जनपद में छूटे हेल्थ वर्कर एवं फ्रन्ट लाईन वर्करों को बूस्टर डोज लगाये जाने हेतु दूरभाष के माध्यम से सूचित करते हुए बूस्टर डोज लगाया जाना सुनिश्चित करेंगे तथा 14 वर्ष से 17 वर्ष की आयु के बच्चों को वैक्सीन लगाये जाने हेतु पूर्व की भॉति मुख्य शिक्षाधिकारी से सम्पर्क स्थापित करते हुए रोस्टर तैयार कर निर्धारित रोस्टर के अनुसार वैक्सीनेशन टीम को विद्यालय में भेजकर शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराया जाना सुनिश्चित करेंगे।

 

15 वे वित्त आयोग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि चिकित्सालयों की आवश्यकताओं तथा कार्यों की प्राथमिकता के आधार पर कार्यों का चयन करते हुए प्रस्ताव तैयार करना सुनिश्चित करेंगे तथा इस प्रस्ताव को मुख्य विकास अधिकारी से परीक्षण करवाते हुए अनुमोदन हेतु जिलाधिकारी कार्यालय को भेजना सुनिश्चित करेंगे।

 

 

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, लमगड़ा में तैनात चिकित्साधिकारी को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र शहरफाटक का भी अतिरिक्त प्रभार दिया गया है उक्त चिकित्सक के दोनों चिकित्सालयों में उपस्थित नहीं रहने सम्बन्धी शिकायत पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि तत्काल उक्त चिकित्साधिकारी को 03 दिन शहरफाटक एवं 03 दिन लमगड़ा में उपस्थित रहकर अपनी सेवायें दिये जाने हेतु उनके दिवस निर्धारित कर आदेशित करना सुनिश्चित करेंगे तथा निर्धारित किये गये दिवसों की सूचना समाचार पत्रों एवं अन्य माध्यमों से क्षेत्रीय जनता के लिए प्रकाशित कराया जाना सुनिश्चित करेंगे।

 

 

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भिकियासैंण में आयुष्मान कार्ड नहीं लेने, दवायें तथा टेस्ट बाहर से लिखे जाने सम्बन्धी शिकायत पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि चिकित्सालय का औचक निरीक्षण करते हुए जॉच आख्या जिला कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण हेतु अन्य जनपदों द्वारा अपनायी जाने वाली प्रक्रिया आदि का विवरण प्राप्त करते हुए बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण हेतु तत्काल नियमानुसार अनुबन्ध किये जाने की कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे।

 

बैठक में जनपद के सामुदायिक/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा हैल्थ वैलनेस सेन्टरों में प्रस्तावित कार्यों का विवरण प्रस्तुत किया गया। उक्त के क्रम में जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि जो कार्य एनएचएम के माध्यम से कराये जा सकते हैं, उन कार्यों को अनिवार्य रूप से एनएचएम की कार्ययोजना में सम्मिलित करना सुनिश्चित करेंगे तथा इसके अतिरिक्त जो कार्य एनएचएम मानकों में नहीं आते उन कार्यों को जिला योजना से प्रस्तावित करना सुनिश्चित करेंगे। बैठक में जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि मेडिकल कालेज स्थित बेस परिसर में तैनात स्टाफ नर्सों का कार्यकाल फरवरी 2022 को समाप्त हो चुका है, इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि प्राचार्य मेडिकल कालेज से समन्वय स्थापित करते हुए उक्त स्टाफ नर्सों का कार्यकाल बढ़ाये जाने तथा वेतन भुगतान किये जाने के सम्बन्ध में मार्गदर्शन तथा अग्रिम दिशा-निर्देशों हेतु महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, उत्तराखण्ड को पत्रालेख प्रेषित करना सुनिश्चित करेंगे।  बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी सहित अन्य उपस्थित रहे।

 

 

उत्तराखंड