उत्तराखंड

उपलब्धि : डॉ. अमित सुकोटी ने निर्धन नेपाली बच्चे का जटिल ऑपरेशन कर जिला चिकित्सालय कर गौरव बढ़ाया

Join our WhatsApp Group
  • निर्धन नेपाली बच्चे का जटिल ऑपरेशन कर जिला चिकित्सालय कर गौरव बढ़ाया सर्जन डॉ अमित सुकोटी ने

अल्मोड़ा : यहां जिलाचिकित्सालय में बीते दो रोज पूर्व 5 साल के मासूम असहल को वरिष्ठ शल्य चिकित्सक डॉ अमित सुकोटी ने नया जीवन दिया। नेपाली मूल के इस बच्चे को एक गंभीर बीमारी थी और व आर्थिक से अत्यंत गरीब था।

आयुष्मान कार्ड जैसी किसी सुविधा से वंचित इस परिवार को सर्जन अमित ने करूणा भाव से भर्ती किया और उसकी बीमारी की गंभीरता को समझा और उसका ऑपरेशन करने का बीड़ा उठाया।बच्चे का जन्म जात दांया अण्डाशय गायब था और उसकी नली भी बाधित थी। जिसे मोनोरचिजम या शुक्राणु रज्जू का हाइड्रोसील कहा जाता है, जिसमें बच्चे को एक जटिल इनग्यूनल हर्निया भी था।

रेडियोलॉजिस्ट डॉ मोहित टम्टा जी ने अल्ट्रासाउण्ड के द्वारा इसका पता लगाया। इस प्रकार की जटिलता का उपचार पर्वतीय जनपदों में कोई सोच भी नहीं सकता। इस निर्धन श्रमिक नेपाली परिवार की दयनीय स्थिति ने सर्जन को हृदय को द्रवित किया और उन्होंने सफलतापूर्वक कर दिखाया। उन्होंने अपनी टीम के साथ मात्र 3.5 इंच के कटाव के साथ बिना खून की हानि पहुंचाए बच्चे का ऑपरेशन किया और बच्चा बीते दो दिन से स्वस्थ है।

यह भी पढ़ें 👉  एसजीआरआरयू में अन्तर्राष्ट्रीय शोध विषयों पर हुआ मंथन

इस कार्य में निश्चेतक चिकित्सक डॉ पल्लवी चौहान, स्टाफ नर्स नेहा, प्रियंका, ओटी स्टाफ गणेश और वार्डबॉय धर्मेंद्र ने उनका सहयोग किया। निर्धन नेपाली परिवार सहित वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारियों ने इस पूरी टीम और शल्य चिकित्सक डॉ अमित सुकोटी को इस जटिल शल्य को सफलता पूर्वक करने के लिए बधाईयां दी है।

नेपाली सनजू सिंह और उनकी पत्नी हीरा मूल रूप से धनगढ़ी फूलबाड़ी नेपाल के निवासी हैं उनकी पत्नी भी बीमार है और वर्तमान में हवालबाग में मेहनत मजदूरी कर अपना परिवार पालते हैं। पिछले 8 सालों से भी अधिक वर्षों का अनुभव रखने वाले डॉ अमित मुख्य रूप से लैप्रोस्कोपिक सर्जरी में दक्ष हैं। उनका कहना है कि अभी तो हम अस्थाई ओटी चला रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  दैनिक ड्यूटी के साथ साथ मानवता का फर्ज भी निभा रही पौड़ी पुलिस, गहरी खाई में गिरी महिला के लिए देवदूत बनी पौड़ी पुलिस

लगभग 6 माह बाद हमें स्थाई ऑपरेशन थ्येटर तो अल्मोड़ा में दूरबीन से ऑपरेशन की सुविधा संभव है। बच्चे के परिजन तीन चार रोज में उसे घरले जाएंगे। डॉ अमित ने बताया कि खानपान की अच्छी आदतों के साथ बच्चा एकल अण्डकोष के सहारे सामान्य जीवन जी सकता है और संतान उत्पत्ति में भी कोई प्रभाव नहीं पड़ता।

उन्होंने बताया कि यह बीमारी दुर्लभ है और करोड़ों लोगों के बीच 2 से 3 प्रतिशत को लोगों को जन्मजात इस प्रकार की जटिलताएं आती है। डॉ अमित द्वारा एक निर्धन परिवार के प्रति संवेदनशीलता और उनके बच्चे को जीवनदान देने का मामला नगर में चर्चाओं में है और सामाजिक कार्यकर्ता भुवन जोशी, संजय पांण्डे,हरेन्द्र वर्मा, सहित अनेक लोगों ने उन्हें शुभकामनाएं दी और कहा कि इस प्रकार के जुनूनी चिकित्सक ही पहाड़ की चिकित्सा व्यवस्था को चाहिए जिन्होंने स्थाई ओटी न होने के बाद भी यह कार्य किया ।

यह भी पढ़ें 👉  एसजीआरआरयू में अन्तर्राष्ट्रीय शोध विषयों पर हुआ मंथन

ज्ञात हुआ कि इससे पूर्व भी हल्द्वानी से आर्थिक तंगी के कारण उपचार से वंचित लौटे शहरफाटक निवासी एक ऊतक संक्रमण से प्रभावित बच्चे के पैर का भी अपने खर्चे से डॉ अमित ने सफल ऑपरेशन कर उसे ठीक किया जो प्रकाश में नहीं आया।

चिकित्सालय के पीएमएस डॉ एच0सी0 गड़कोटी सहित जनपदीय अधिकारियों ने डॉ अमित को बधाई दी है। सामाजिक कार्यकर्ता संजय पांण्डे ने कहा कि ये अल्मोड़े के लिए सौभाग्य की बात है कि इतने काबिल सर्जन अल्मोड़ा में है जो निस्वार्थ भाव से लोगो की सेवा में लगे है उन्होंने सभी स्वयं सेवी संस्थाओं अस्पताल प्रबंधन एव जिला प्रशासन से डॉ अमित को इस कार्य के लिए पुरस्कृत करने की भी मांग की।

"सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल"

सूचना एवं लोक संपर्क विभाग, देहरादून द्वारा सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल "इंफो उत्तराखंड" (infouttarakhand.com) का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड सत्य की कसौटी पर शत-प्रतिशत खरा उतरना है। इसके अलावा प्रमाणिक खबरों से अपने पाठकों को रुबरु कराने का प्रयास है।

About

“इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) प्रदेश में अपने पाठकों के बीच सर्वाधिक विश्वसनीय न्यूज पोर्टल है। इसमें उत्तराखंड से लेकर प्रदेश की हर एक छोटी- बड़ी खबरें प्रकाशित कर प्रसारित की जाती है।

आज के दौर में प्रौद्योगिकी का समाज और राष्ट्र के हित में सदुपयोग सुनिश्चित करना भी आपने आप में चुनौती बन रहा है। लोग “फेक न्यूज” को हथियार बनाकर विरोधियों की इज्ज़त, और सामाजिक प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। हालांकि यही लोग कंटेंट और फोटो- वीडियो को दुराग्रह से एडिट कर बल्क में प्रसारित कर दिए जाते हैं। हैकर्स बैंक एकाउंट और सोशल एकाउंट में लगातार सेंध लगा रहे हैं।

“इंफो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) इस संकल्प के साथ सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर उतर रहा है, कि बिना किसी दुराग्रह के लोगों तक सटीक जानकारी और समाचार आदि संप्रेषित किए जाएं। ताकि समाज और राष्ट्र के प्रति जिम्मेदारी को समझते हुए हम अपने उद्देश्य की ओर आगे बढ़ सकें। यदि आप भी “इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) के व्हाट्सऐप व ईमेल के माध्यम से जुड़ना चाहते हैं, तो संपर्क कर सकते हैं।

Contact Info

INFO UTTARAKHAND
Editor: Neeraj Pal
Email: [email protected]
Phone: 9368826960
Address: I Block – 291, Nehru Colony Dehradun
Website: www.infouttarakhand.com

To Top