राजनीति : गढ़ी कैंट में गणेश जोशी के समर्थन में गरजे पूर्व जनरल वीके सिंह

राजनीति : गढ़ी कैंट में गणेश जोशी के समर्थन में गरजे पूर्व जनरल वीके सिंह

  • पूर्व सैनिक सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए जनरल ने दिये दो काम, बोले- 90 प्रतिशत मतदान एवं गणेश जोशी को रिकार्ड जीत का वरदान

 

देहरादून/इन्फो उत्तराखंड

रविवार को गढ़ी कैंट स्थित एक निजी वैडिंग पॉइंट में मसूरी विधानसभा प्रत्याशी गणेश जोशी के पक्ष में चुनावी सभा का आयोजन हुआ। इस सभा में गणेश जोशी के पक्ष में वोट मांगने के लिए पूर्व थल सेना अध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने पूर्व सैनिकों एवं उनके परिवारजनों को सम्बोधित किया।

केन्द्रीय मंत्री एवं सेवानिवृत जनरल वीके सिंह ने जनता से सीधा संवाद स्थापित करते हुए कहा कि गणेश जोशी को बहुत अच्छी तरह से जानता हूं, एक पुराने फौजी के तौर पर भी उनके बारे में जितना कुछ कहूं वही कम लगता है। अपने क्षेत्र की जनता के लिए खास तौर से फौजी भाइयों के लिए काम करने का जो उनका जज्बा है, वह लड़ाकूपन मैंने बहुत कम नेताओं में देखा है। उन्होंने दावा किया कि पिछले 5 सालों में उत्तराखंड और पिछले 7 सालों में देश मैं मोदी सरकार द्वारा हर एक नागरिक के जीवन में क्या परिवर्तन ला दिया गया है।

पुराने एक प्रधानमंत्री कहते थे, कि मुझे भी कृपया भेजता हूं तो जनता की पास सिर्फ 15 पैसा जाता है। आज मोदी कहते हैं कि किसान सम्मान निधि का 2000 सीधे किसान के खाते में जाता है। यह स्पष्ट फर्क है। उन्होंने उपस्थित जन समुदाय से दो अपील की, पहला की अधिक से अधिक वोटिंग परसेंटेज को बढ़ाएं और दूसरा यह कि अपने प्रत्याशी गणेश जोशी के पक्ष में अधिक से अधिक मतदान करें।

भाजपा प्रत्याशी गणेश जोशी ने कहा कि मैं यह नहीं कहता कि मैं सब कुछ सबसे अच्छा करता हूं, पर अपने क्षेत्र की जनता के लिए मैं सबसे बेहतर करने की अब प्रयास करता हूं, क्षेत्र की जनता का आशीर्वाद है कि मैं बहुत सारे कामों को करने में सफल भी होता हूं।

यह बात आप भी अच्छी तरह जानते हैं कि आपका यह पूर्व सैनिक भाई अपनी क्षमताओं से ज्यादा दिन रात लगकर आपकी सेवा में उपस्थित रहता है। उन्होंने कहा कि शहीदों को वापस नहीं लाया जा सकता यह बात हर कोई जानता है परन्तु उत्तराखंड के इतिहास में यह पहली बार हुआ है, कि पूरे राज्य के प्रथम विश्व युद्ध के बाद से अब तक के शहीदों के सम्मान में शहीद सम्मान यात्रा आयोजित की गई।

सैनिक कल्याण मंत्री के तौर पर, मैंने प्रयास किया कि पूरे विभाग को सैनिकों की समस्याओं के वास्तविक समाधान निकालने में लगाऊं, और हमने अधिकांश ऐसे पैसे लिए हैं जिन से पूर्व सैनिकों एवं उनके आश्रितों को सीधा लाभ मिल रहा है।

शहीदों के परिजनों को सरकारी नौकरियों का लाभ देने की बात हो या होनहार बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियों के लिए सहयोग की बात हो। उन्होंने वन रैंक वन पेंशन लागू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया। गणेश जोशी ने कहा कि मैं राजनीति में नहीं था, मैं तो एक फौजी था, मेरे पिता भी फौजी रहे।

फ़ौज ने ही मुझे सिखाया कि देश और जनता की सेवा कैसे की जाती है। इसलिए आज भी मेरी कार्यशैली यही है, रात के दो बजे भी अगर कोई कार्यकर्ता अपनी परेशानी में मुझे फोन करता है, गणेश जोशी वहां खड़ा होता है। मैं सेवा करता हूं, राजनीति नहीं। राजनीति करने का काम विपक्षी नेताओं का है, मुझे जनता की सेवा करनी है, पहले भी काम करता आया हूं, आगे भी सिर्फ जनता की सेवा ही करूंगा।

उन्होंने कहा कि, मसूरी की जनता ने यह मन बना लिया है, कि वह गणेश जोशी को दोबारा लाना चाहते हैं। मित्रों यह जीत सुनिश्चित है, बातचीत के अंतर को बढ़ाने की है। शायद यही कारण है कि लगातार कांग्रेस छोड़ छोड़कर युवा, महिलाएं और वरिष्ठ कार्यकर्त्ता कांग्रेस पार्टी को छोड़ छोड़कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम रहे हैं।

इस दौरान कांग्रेस पार्टी की मसूरी विधानसभा प्रत्याशी गोदावरी थापली की बहन कल्पना गुरुंग ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं का सम्मान करती है और प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रहित में कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एवं उनके नेता कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं करते। उन्होनें गणेश जोशी को भारी बहुमत से विजयी बनाने की अपील की।

इस दौरान कर्नल संतोष गुरुंग, कैप्टन जयपाल सिंह बिष्ट, राजू थापा, नायब सुबेदार संजय प्रधान, कैप्टन परम बहादुर, नायब सुबेदार हरि कुमार, छोले क्षेत्री, सुबेदार नव सिंह श्रेष्ट, कैप्टन दलबीर पुन, कैप्टन श्याम किराला, सुबेदार मेजर तिलक जीसी, नायब सुबेदार महेश प्रधान, सुबेदार मेजर अनिल थापा, हवलदार गुलाब गुरुंग, एकबहादुर गुरुंग, सुबेदार मायाराज क्षेत्री, मेजर सुभाष प्रधान, कमल कुमार, कैप्टन एसएस थापा, कैप्टन आरएस रावत, कैप्टन संजय मंमगाई, कुन्दन राणा, दिनेश प्रधान, आरएन भटृ, नेहा शर्मा, लक्ष्मी सहित कई पूर्व सैनिकों ने भाजपा का दामन थामा।

इस अवसर विधानसभा संयोजक विष्णु प्रसाद गुप्ता, मण्डल अध्यक्ष राजीव गुरुंग, पूनम नौटियाल, विधानसभा प्रभारी रविन्द्र कटारिया, विधायक जवाहर चावड़ा, सिकंदर सिंह, कैप्टन चन्द्रवीर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष दीपक पुण्डीर, कर्नल भण्डारी, शमशेर सिंह बिष्ट, कैप्टन डीएस कुंवर, महावीर सिंह राणा, राजेन्द्र कौर सौंधी, निर्मला भटृ, ज्योति कोटिया, संध्या थापा, नैन सिंह पंवार आदि उपस्थित रहे।

उत्तराखंड