उत्तराखंड

खुलासा : दोस्ती, प्यार, शादी, और फिर धोखा फिर क्या कर दी हत्या

Join our WhatsApp Group

दोस्ती, प्यार, शादी, और फिर धोखा फिर क्या कर दी हत्या

ब्लाइंड मर्डर केस में 05 दिनों की कड़ी मेहनत से हत्यारे तक पहुंची हरिद्वार पुलिस

ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझाने में हरिद्वार पुलिस के सत्यापन अभियान ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका

थाना अध्यक्ष श्यामपुर नितेश शर्मा की त्वरित करवाई पर कप्तान ने की सराहना

खुलासे पर ईनामों की बौछार, आईजी गढ़वाल द्वारा 10000/- व एसएसपी हरिद्वार द्वारा 5000/- के नगद ईनाम की, की घोषणा

सुनसान जंगल में अज्ञात महिला का शव मिलने से पूरे जनपद में मची थी सनसनी

अज्ञात महिला को न्याय दिलाने के लिए पुलिस खुद बनी थी वादी

एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल द्वारा अधिकारियों संग स्वयं किया था घटनास्थल का निरीक्षण

3000 से अधिक लोगों से पूछताछ, 800 से अधिक सीसीटीवी. कैमरा फुटेज का किया बारीकी से विश्लेषण

ब्लाइंड मर्डर केस सुलझाना हमेशा ही हार्ड टॉस्क होता है, गठित पुलिस टीम ने शानदार टीम वर्क दिखाया- एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल

हरिद्वार। श्यामपुर थाना क्षेत्र में दिनांक 09.11.2023 को चण्डीदेवी पैदल मार्ग से सटे जंगल में करीब 30-32 वर्षीय अज्ञात महिला का शव बरामद हुआ। घटनास्थल पर मृतका के पहने कपड़ों एवं अन्य जूतियों के अलावा एक खून से सना चाकू, एक पैन के अलावा कोई अन्य साक्ष्य नहीं मिला था। अज्ञात शव की जानकारी मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई।

महिला सम्बन्धी अपराधों के प्रति गंभीर एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सिटी स्वतंत्र सिंह, सीओ सिटी जूही मनराल, थानाध्यक्ष नितेश शर्मा, फॉरेंसिक टीम व अन्य मातहत ऑफिसर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और हर मौजूद तथ्य का बारीकी से निरीक्षण कर घटना के जल्द खुलासे के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए टीमें गठित की।

यह भी पढ़ें 👉  डोईवाला : एयरपोर्ट पर बांग्लादेशी नागरिक से बरामद की 12.39 लाख की रकम

पुलिस की कार्यवाही :-

थाना स्तर पर गठित पहली टीम को अज्ञात शव की शिनाख्त का टफ टास्क दिया गया था क्योंकी जंगल के सुनसान इलाके में बरामद शव के आसपास और मुख्य सड़क पर कोई सीसीटीवी कैमरे भी नहीं थे चंडी देवी मंदिर पर भी सिर्फ दो ही सीसीटीवी कैमरे चल रहे थे। इन सभी को देखते हुए पुलिस के सामने महिला की पहचान करना और साक्ष्य जुटाना एक बहुत बड़ी चुनौती थी। मृतका के हुलिए से मिलते जुलते लोगों से पुलिस टीम द्वारा बैरागी, रोड़ी बेल वाला, ज्वालापुर, सराय, बस स्टेंड , रेलवे स्टेशन और अन्य बिहारी बाहुल्य क्षेत्र में महिला की शिनाख्त के लिए लगातार प्रयास किए गए।

द्वितीय टीम द्वारा घटनास्थल के 5 किलोमीटर के रेडियस में स्थित सभी सीसीटीवी कैमरा फुटेज को जुटाकर उनका बारीकी से विश्लेषण शुरू किया जिसमें पुलिस चौकी चंडी घाट, चंडी घाट चौक, चंडी देवी मंदिर, काली माता मंदिर, 4.2 तिराहा आदि कैमरे शामिल थे।

पोस्टमार्टम में महिला की मृत्यु के संभावित समय के आधार पर सेकड़ों सीसीटीवी फुटेज विश्लेषण करने पर मृतका के हुलिए की मिलती-जुलती एक महिला की एक पुरुष के साथ चंडी घाट, हर की पैड़ी, मंशा देवी मार्ग व अपर रोड़ में चहलकदमी दिखी जबकी कुछ समय बाद उक्त पुरुष अकेले ही पहले पैदल और फिर ऑटो से जाता हुआ दिखाई दिया।

उक्त पूरे रूट में फूटेज विश्लेषण एवं ऑटो चालक से पूछताछ के आधार पर सिड़कुल क्षेत्र पहुंची श्यामपुर पुलिस टीम ने परमानंद विहार कॉलोनी की तरफ उक्त व्यक्ति को देखे जाने का सुराग मिलते ही उक्त कॉलोनी में हजारों किराएदारों की योजना के तहत दिन-रात एक करते हुए डोर टू डोर चैकिंग की। कई टीमों द्वारा गली-गली/मौहल्ले-मौहल्ले में घूमकर मृतका व संदिग्ध की फोटो को लोगों को दिखाकर पहचान के पुरजोर प्रयास किए गए वहीं दूसरी तरफ थाना सिडकुल में पूर्व में किए गए किराएदारों के सत्यापन से भी टीम द्वारा जानकारी जुटाई गई।

यह भी पढ़ें 👉  डोईवाला : एयरपोर्ट पर बांग्लादेशी नागरिक से बरामद की 12.39 लाख की रकम

कई दिनों तक योजनाबद्ध तरीके से हरिद्वार पुलिस की इस मेहनत के परिणामस्वरुप संदिग्ध व्यक्ति की पहचान अजय निवासी बदांयू के रूप में हुई। संदिग्ध की पहचान पुलिस टीम के लिए अहम सुराग था।

उक्त जानकारी के आधार पर एक टीम तत्काल बदांयू उत्तर प्रदेश के लिए रवाना हुई और दूसरी टीम द्वारा संभावित स्थानों पर मुखबीर सक्रिय कर तलाश की गई। चौतरफा प्रयासों के बीच पुलिस टीम ने आखिरकार संदिग्ध व्यक्ति को दिनांक 15/11/23 को मुखबिर की सूचना पर थाना सिड़कुल क्षेत्रान्तर्गत रोशनाबाद से दबोचने में कामयाबी हासिल की। पुलिस द्वारा की गई कड़ी पूछताछ पर अभियुक्त अजय ने युवती की हत्या करने का अपना जुर्म स्वीकार किया।

…ये थी हत्या की वजह :- 

सिड़कुल क्षेत्र में मेल मिलाप होने पर आरोपी अजय ने गैर समुदाय की युवती को बदायूं ले जाकर उससे शादी कर ली थी लेकिन कुछ दिन बाद ही मृतका रिश्तेदारी में जाने का बहाना बनाकर गायब हो गई। तभी से आरोपी अजय अपनी पत्नी को लगातार तलाश रहा था। रोजगार के लिए वापस हरिद्वार लौटे अजय को जब उसके दोस्तों से पता चला की उसकी पत्नी यहीं हरिद्वार में किसी लड़के के साथ रह रही है तो उसने अपनी पत्नी को तलाशकर पुनः साथ रहने के लिए मनाया और अपने साथ किराये के कमरे में ले गया लेकिन धीरे-धीरे दोनों के बीच में छोटी-छोटी बातों को लेकर मन मुटाव और लगभग रोजाना ही झगडा होने लगा। इस पर अजय ने अपनी पत्नी को रास्ते से हटाने का प्लान तैयार किया।

यह भी पढ़ें 👉  डोईवाला : एयरपोर्ट पर बांग्लादेशी नागरिक से बरामद की 12.39 लाख की रकम

घटना के दिन दिनांक 8 नवंबर को आरोपी अपनी पत्नी को मन्दिर घुमाने के बहाने हरिद्वार लाया लेकिन सुनसान जगह न मिलने के चलते अजय उसे हर की पौड़ी से होते हुए पैदल-पैदल चंडी देवी मंदिर के लिए लेकर आ गया। रास्ते में मनमाफिक जगह दिखने पर आरोपी थक जाने का बहाना बनाकर बैठने के बहाने अपनी पत्नी को जंगल के सुनसान इलाके में ले गया।

आरोपी ने भावनात्मक रूप से नाराजगी जताते हुए पहले तो चाकू निकालकर अपने हाथ पर तीन-चार वार किए और फिर गुस्से में आकर अपनी पत्नी पर चाकू का वार करने का प्रयास किया लेकिन मृतका के विरोध करने पर चाकू छिटककर किनारे गिर गया। आरोपी अजय ने मृतका के ऊपर बैठकर उसका गला दबाकर हत्या कर दी और अपने आप को बचते-बचाते हुए पैदल-पैदल बस अड्डे जाकर ऑटो से सिडकुल वाले कमरे में पहुंचा। वहां आरोपी ने अपना मोबाइल बंद कर दिया और अपने गांव बंदायू चला गया। आरोपी दिवाली के बाद कल दिनांक 15/11/23 को ही अपने गांव से वापस रोशनाबाद लौटा था। जहां से पुलिस ने उसे दबोच लिया।

"सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल"

सूचना एवं लोक संपर्क विभाग, देहरादून द्वारा सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल "इंफो उत्तराखंड" (infouttarakhand.com) का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड सत्य की कसौटी पर शत-प्रतिशत खरा उतरना है। इसके अलावा प्रमाणिक खबरों से अपने पाठकों को रुबरु कराने का प्रयास है।

About

“इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) प्रदेश में अपने पाठकों के बीच सर्वाधिक विश्वसनीय न्यूज पोर्टल है। इसमें उत्तराखंड से लेकर प्रदेश की हर एक छोटी- बड़ी खबरें प्रकाशित कर प्रसारित की जाती है।

आज के दौर में प्रौद्योगिकी का समाज और राष्ट्र के हित में सदुपयोग सुनिश्चित करना भी आपने आप में चुनौती बन रहा है। लोग “फेक न्यूज” को हथियार बनाकर विरोधियों की इज्ज़त, और सामाजिक प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। हालांकि यही लोग कंटेंट और फोटो- वीडियो को दुराग्रह से एडिट कर बल्क में प्रसारित कर दिए जाते हैं। हैकर्स बैंक एकाउंट और सोशल एकाउंट में लगातार सेंध लगा रहे हैं।

“इंफो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) इस संकल्प के साथ सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर उतर रहा है, कि बिना किसी दुराग्रह के लोगों तक सटीक जानकारी और समाचार आदि संप्रेषित किए जाएं। ताकि समाज और राष्ट्र के प्रति जिम्मेदारी को समझते हुए हम अपने उद्देश्य की ओर आगे बढ़ सकें। यदि आप भी “इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) के व्हाट्सऐप व ईमेल के माध्यम से जुड़ना चाहते हैं, तो संपर्क कर सकते हैं।

Contact Info

INFO UTTARAKHAND
Editor: Neeraj Pal
Email: [email protected]
Phone: 9368826960
Address: I Block – 291, Nehru Colony Dehradun
Website: www.infouttarakhand.com

To Top