बड़ी खबर  : हरीश रावत ने गैरसैंण को लेकर कही यह बात, दी ये चेतावनी

बड़ी खबर : हरीश रावत ने गैरसैंण को लेकर कही यह बात, दी ये चेतावनी

देहरादून/ इंफो उत्तराखंड 

हरीश रावत ने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने को लेकर एक बार फिर भाजपा सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जो भाजपा सरकार ने चुनाव से पहले गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की घोषणा की है, उसे वह पहले पूरा करके तो दिखाये।

हरीश रावत ने कहा कि भाजपा ने उत्तराखंड में चुनाव से पहले जो बड़े वादे किए हैं उनमें से एक वादा गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने का भी है। वहीं उन्होंने कहा कि ग्रीष्मकालीन दिन पर दिन बीत रहा है लेकिन यह घोषणा के बाद भी वहां विधानसभा में घोषणा के बाद तीसरा ग्रीष्मकालीन है, लेकिन विधानसभा सत्र में इस बारे में कोई संज्ञान तक नहीं लिया गया।

रावत ने कहा कि गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाना तो छोड़िये, मुख्यमंत्री ने एक रात वहां बिताना भी मुनासिब नहीं समझा। वहीं भाजपा की सरकार का प्रतीक वहां कोई बैठता तक नहीं है।

रावत बोले एक दिन भाजपा सरकार वहां भाजपा के मंत्रिमंडल ने विचार-विमर्श तक नहीं किया। साथ ही मुख्य सचिव, प्रमुख सचिवगण वहां गए भी है, मैंने ऐसा कोई समाचार आज तक न देखा और न सुना। उन्होंने आगे कहा कि इससे और बड़ा अपमान राज्य की जनता का उसके मान सम्मान के प्रतीक विधानसभा के पलट का और क्या हो सकता है।

भाजपा की घोषणा ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की और एक के बाद एक ग्रीष्मकालीन बीत रहे हैं। मगर सरकार है, कि उस घोषणा पर अमल करने को तैयार ही नहीं, लोगों से कह रही है कि भूल जाओ।

हरीश रावत ने भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा, कि मैंने भी तय किया है कि मैं इस सरकार को भूलने नहीं दूंगा। साथ ही इन को याद दिलाने मैं 14 जुलाई 2022 को, क्योंकि 15 तारीख के बाद फिर से ग्रीष्म काल समाप्त हो जाएगा।

हरीश रावत ने कहा कि मैं 14 जुलाई को गैरसैंण जाऊंगा। और सरकार के प्रतीक एवं कार्यालय में संकेतिक तालाबंदी कर उत्तराखंड के लोगों को आक्रोशित के प्रति ध्वनि प्रदान करूंगा।

उत्तराखंड