उत्तराखंड

जोशीमठ का दर्द (joshimath pain) : मैं देवभूमि का जोशीमठ हूँ, आज चाहता हूँ बोलना मगर विवश हूँ…पढ़िए इस दर्द-ए-दास्तां बयां करनी वाली पंक्ति को

Join our WhatsApp Group

चमोली/ इंफो उत्तराखंड”

उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के धौलादेवी ब्लॉक के स्यूनी (खेती) गाँव के निवासी एवं वर्तमान में राजकीय पॉलिटेक्निक नैनीताल में तृतीय वर्ष के छात्र राकेश उप्रेती ने जोशीमठ भू धंसाव को लेकर इंफो उत्तराखंड को एक कविता पेश की है, जिसमें उन्होंने जोशीमठ भू धंसाव पर अपना दर्द-ए-दास्तां बयां की गई है।

जोशीमठ में लगातार हो रहे भू- धंसाव पर राकेश उप्रेती ने लिखी दर्द-ए-दास्तां बयां करने वाली कविता….. आप भी जरूर पढ़िए

…मैं देवभूमि का जोशीमठ हूँ,

आज चाहता हूँ बोलना मगर विवश हूँ…

यूँ तो मैं चूप ही रहा हूँ सदियों से,
मगर आज गला भर आया है कुछ कमीयों से,

भले मैं चूप हूँ आज,
मगर मुझमे पडी़ दरारें बोल रही है,

घर, मकान चीख़ रहें
जमींदोज होती दीवारें बोल रहीं है,

मेरे शहरी बेघर हुये जा रहे है,
ये मैं नहीं बोल रहा ढहती मिनारें बोल रही है,

यह भी पढ़ें 👉  डोईवाला : एयरपोर्ट पर बांग्लादेशी नागरिक से बरामद की 12.39 लाख की रकम

आधुनिकीकरण के तराजू में
मेरी सांसे तोल रही है,

सरकार से जाकर पूछे कोई,
विकास के कौन से दरवाजे खोल रही है,

आज मैं नहीं बोल रहा हूँ,
मुझे खोखला करती दरारें बोल रही है।

आज से नहीं बल्कि सदियों से,
मुझे धरती का स्वर्ग बताया जाता है,

मुझे पार करने के बाद ही,
बाबा बदरी को शीश नवाँया जाता है,

नृसिंह माता मेरे आंगन को सजाती है,
मेरे ही हेमकुंड में देवताओ को अर्ध्य चढाया जाता है,

आज समूची मेरी छाती डोल रही है,
मैं चूप हूँ मगर मुझमे पडी़ दरारें बोल रही है,

नहीं चाहिए तुम्हारी पक्की सडकें मुझे,
मेरे लिए मेरी दुर्गम पगडंडीयाँ अनमोल रही है,

रंग बदलती फूलों की घाटी के रास्ते मुझसे जाते है,
कोने कोने के सैलानी मुझमे सूकून पाते है,

यह भी पढ़ें 👉  डोईवाला : एयरपोर्ट पर बांग्लादेशी नागरिक से बरामद की 12.39 लाख की रकम

मेरी अलकनंदा तुम्हारे जीवन में रस घोल रही है,
मैं चूप हूँ मगर हिमवन की कोमल बौछारें बोल रही है,

मुझे बचालो कर लो मुझपर उपकार,
मेरी जमीन फट रही है दरक रहे है पहाड़,

मुझे निगल रहा है प्रतिपल होता भूधंसाव,
डर है तुम्हारी अनदेखी ना कर दे मुझे उजाड़,

ये तबाही मेरी संस्कृति और अस्मिता में जहर घोल रही है,
मैं चूप हूँ मगर मुझमे पडी़ दरारें बोल रही है,

तुम्हारे ये बाँध ये सड़कें ये विकास तुम्ही रख लो,
मुझे तो बस मेरा वही पुराना स्वर्ग लौटा दो,

ये सोलर पैनल, ये MODERN ELECTRICITY ले जाओ वापस, मुझे मेरा वही पुराना हिमाच्छादित अर्क़ लौटा दो,

तुम्हारी ये विष्णुगढ़ जल विघुत सुरंग परियोजना
मेरा दम घोंट रही है,

यह भी पढ़ें 👉  डोईवाला : एयरपोर्ट पर बांग्लादेशी नागरिक से बरामद की 12.39 लाख की रकम

मेरे बच्चे विस्थापन का दंश झेल रहे है,
उनकी करूण वेदना मेरी आत्मा को कचोट रही है,

मेरे बच्चे कहाँ जायेंगे,
जिनके लिए जान से बढकर माँ अनमोल रही है,

मैं जरूर चूप हूँ आज मगर,
मेरे बच्चों की पुकारें बोल रही,

मुझे बचालो के मेरे बच्चों के आशीष को पाओगे,
मेरे बच्चों को कुछ हुआ तो खुद भी अतीत हो जाओगे,
घर, मकान चीख़ रहें, जमींदोज होती दीवारें बोल रहीं है,

इंसान ही नहीं बल्कि हर एक प्राणी बोल रहा है…
मैं देवभूमि का जोशीमठ हूँ,
आज चाहता हूँ बोलना मगर विवश हूँ,

यूँ तो मैं चूप ही रहा हूँ सदियों से,
मगर आज गला भर आया है कुछ कमीयों से,

भले मैं चूप हूँ आज,
मगर मुझमे पडी़ दरारें बोल रही है,

"सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल"

सूचना एवं लोक संपर्क विभाग, देहरादून द्वारा सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल "इंफो उत्तराखंड" (infouttarakhand.com) का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड सत्य की कसौटी पर शत-प्रतिशत खरा उतरना है। इसके अलावा प्रमाणिक खबरों से अपने पाठकों को रुबरु कराने का प्रयास है।

About

“इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) प्रदेश में अपने पाठकों के बीच सर्वाधिक विश्वसनीय न्यूज पोर्टल है। इसमें उत्तराखंड से लेकर प्रदेश की हर एक छोटी- बड़ी खबरें प्रकाशित कर प्रसारित की जाती है।

आज के दौर में प्रौद्योगिकी का समाज और राष्ट्र के हित में सदुपयोग सुनिश्चित करना भी आपने आप में चुनौती बन रहा है। लोग “फेक न्यूज” को हथियार बनाकर विरोधियों की इज्ज़त, और सामाजिक प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। हालांकि यही लोग कंटेंट और फोटो- वीडियो को दुराग्रह से एडिट कर बल्क में प्रसारित कर दिए जाते हैं। हैकर्स बैंक एकाउंट और सोशल एकाउंट में लगातार सेंध लगा रहे हैं।

“इंफो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) इस संकल्प के साथ सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर उतर रहा है, कि बिना किसी दुराग्रह के लोगों तक सटीक जानकारी और समाचार आदि संप्रेषित किए जाएं। ताकि समाज और राष्ट्र के प्रति जिम्मेदारी को समझते हुए हम अपने उद्देश्य की ओर आगे बढ़ सकें। यदि आप भी “इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) के व्हाट्सऐप व ईमेल के माध्यम से जुड़ना चाहते हैं, तो संपर्क कर सकते हैं।

Contact Info

INFO UTTARAKHAND
Editor: Neeraj Pal
Email: [email protected]
Phone: 9368826960
Address: I Block – 291, Nehru Colony Dehradun
Website: www.infouttarakhand.com

To Top