लापरवाही : यहां अस्पताल में जीवित बच्चे को बताया मृत। जताई आशंका

लापरवाही : यहां अस्पताल में जीवित बच्चे को बताया मृत। जताई आशंका

महिला ने रानीखेत ले जाते समय एंबुलेंस में स्वस्थ बच्चे को दिया जन्म।
अस्पताल के प्रभारी डाॅक्टर ने कहा, कि बच्चे को मृत नहीं बताया बल्कि आशंका जताई

चैखुटिया/अल्मोड़ा, इंफो उत्तराखंड

अल्मोड़ा में एक मामला अजीबों- गरीबों सामने आया जहां डाॅक्टरों ने एक महिला के गर्भ से बच्चों को आधा बाहर निकालकर उसे मृत बताकर दूसरे अस्पताल के रेफर कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार गैरसैंड ब्लाॅक के खोलीधार तोक निवासी रविन्द्र सिंह की पत्नी कुसुम (23) को परिजन रविवार सुबह सीएचसी चौखुटिया लेकर आए थे। जहां गांव से सड़क तक पैदल चलने के कारण बच्चे के पैर गर्भ से बाहर आ गए।

महिला ने आरोप लगाए कि डाॅक्टर ने बच्चे की धड़कनें बंद होने की बात कहकर उनको रानीखेत रेफर कर दिया। जिसके बाद चौखुटिया से दो किमी दूरी पर ही महिला ने 108 एंबुलेंस में जीवित बच्चे को जन्म दिया।

सीएचसी चैखुटिया के प्रभारी डॉ. अमित रतन ने बताया कि बच्चे के पैर निले पड़े हुए थे। लेकिन मां कि मामता नहीं मानी कि उसका बच्चा मारा हुआ है। महिला ने आंशका जताई कि बच्चे की धड़कनें केवल 70 थी, जबकि 130 से 160 होती है। जिसके बाद डाॅक्टरों ने बच्चों को ऑक्सीजन के सपोर्ट में रखा गया है।

स्वास्थ्य