उत्तराखंड

लक्सर विधायक ने लक्सर तहसील को आपदा ग्रस्त घोषित कराने व पर्याप्त सहायता राशि दिलवाने को लेकर 15 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा

Join our WhatsApp Group

जोनी चौधरी हरिद्वार लक्सर प्रभारी।
9548216591

  • लक्सर विधायक ने लक्सर तहसील को आपदा ग्रस्त घोषित कराने व पर्याप्त सहायता राशि दिलवाने को लेकर दिया 15 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा।

आज लक्सर से बीएसपी विधायक मोहम्मद शहजाद ने शरबत करीम अंसारी विधायक मंगलौर व प्रदेश अध्यक्ष चौधरी शीशपाल व हजारों कार्यकर्ताओं के साथ लक्सर तहसील कार्यालय पहुंचकर माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखंड सरकार के नाम लक्सर उप जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा जिसमें 15 मांग रखी गई है।

लक्सर विधायक हजारों कार्यकर्ताओं के साथ अपने कैंप कार्यालय से लकसर तहसील परिषर तक पैदल चलकर पहुंचे लक्सर विधायक ने उत्तराखंड सरकार से ज्ञापन देकर जो मांग की है उन में मुख्यतः जिन लोगों के घरों में पानी भरा है उन्हें न्यूनतम मुवावजा धनराशि ₹5000 व 15 दिन की दैनिक मजदूरी 6900 यानी कुल मिलाकर 11900 रुपये प्रति परिवार मुआवजा दिया जाए प्रत्येक किसान को गन्ना ₹11000 बीघा धान ₹6000 बीघा व लीज पर भूमि लेकर खेती कर रहे किसानों व उनके साथ लगे मजदूरों को 6900 प्रति परिवार का मुआवजा दिया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा : जन सुविधा केंद्र में अभी भी पुराने सिस्टम पर चल रहे हैं सभी कार्य : संजय पांडे 

ग्रामीण क्षेत्रों में आवास एवं बस्तियों के साथ-साथ लक्सर बाजार के व्यापारियों व व्यापारियों के पास काम करने वाले मजदूर व सामान ढोने वाले मजदूरों को भी 15 दिन की मनरेगा स्वीकृत मजदूरी 6900 प्रति मजदुर मुआवजा दिया जाए क्षेत्र में 15 दिन तक पानी भरा होने के कारण मजदूरी नहीं मिल पाई जिससे प्रभावित परिवारों को के कम से कम दो व्यक्तियों को मनरेगा की स्वीकृत मजदूरी न्यूनतम 6900 रुपये प्रति परिवार का मुवावजा दिया जाए झोपड़िया छप्पर पॉलीथिनों के नीचे जीवन यापन करने वाले प्रत्येक परिवारों को ₹8000 प्रति परिवार का मुआवजा दिया जाए क्षेत्र के सभी व्यक्तियों का एक वर्ष का बिजली का बिल माफ किया जाए कर्जदारों का 1 वर्ष के संपूर्ण कर्ज पर पूर्ण ब्याज माफ किया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून : प्रदेश के सभी राजकीय महाविद्यालयों में अब एक समान शुल्क लिया जाएगा

सहकारी समिति कृषिऋण 1 लाख तक पूर्णमाफ़ किया जाए लक्सर बाजार में आगे कभी जल भराव की स्थिति ना बने इस समस्या से निजात दिलाने के लिए हडवाहा नाले की सफाई पुलों का चौड़ीकरण पथरी नदी व सोलानी नदी की सफाई व खुदाई के साथ क्षतिग्रस्त तटबंधों का भी पुनः निर्माण कराया जाए अनियमितता व भ्रष्टाचार में सम्मिलित अधिकारियों कर्मचारियों की जांच कर कर तत्काल कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा : सिटी बस का किराया बढ़ाए जाने पर सामाजिक कार्यकर्ताओं ने जताया कड़ा विरोध, सौंपा ज्ञापन

लक्सर विधायक ने साथ ही कहा कि अगर सरकार ने हमारी मांगे नहीं मानी तो हम धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे इस पूरे कार्यक्रम में मंगलौर से बीएसपी विधायक सरवत करीम सहित बीएसपी से प्रदीप चौधरी प्रदेश महासचिव बीएसपी उत्तराखंड अश्विनी कुमार मुमताज आदि भी मौजूद रहे ।

"सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल"

सूचना एवं लोक संपर्क विभाग, देहरादून द्वारा सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल "इंफो उत्तराखंड" (infouttarakhand.com) का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड सत्य की कसौटी पर शत-प्रतिशत खरा उतरना है। इसके अलावा प्रमाणिक खबरों से अपने पाठकों को रुबरु कराने का प्रयास है।

About

“इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) प्रदेश में अपने पाठकों के बीच सर्वाधिक विश्वसनीय न्यूज पोर्टल है। इसमें उत्तराखंड से लेकर प्रदेश की हर एक छोटी- बड़ी खबरें प्रकाशित कर प्रसारित की जाती है।

आज के दौर में प्रौद्योगिकी का समाज और राष्ट्र के हित में सदुपयोग सुनिश्चित करना भी आपने आप में चुनौती बन रहा है। लोग “फेक न्यूज” को हथियार बनाकर विरोधियों की इज्ज़त, और सामाजिक प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। हालांकि यही लोग कंटेंट और फोटो- वीडियो को दुराग्रह से एडिट कर बल्क में प्रसारित कर दिए जाते हैं। हैकर्स बैंक एकाउंट और सोशल एकाउंट में लगातार सेंध लगा रहे हैं।

“इंफो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) इस संकल्प के साथ सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर उतर रहा है, कि बिना किसी दुराग्रह के लोगों तक सटीक जानकारी और समाचार आदि संप्रेषित किए जाएं। ताकि समाज और राष्ट्र के प्रति जिम्मेदारी को समझते हुए हम अपने उद्देश्य की ओर आगे बढ़ सकें। यदि आप भी “इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) के व्हाट्सऐप व ईमेल के माध्यम से जुड़ना चाहते हैं, तो संपर्क कर सकते हैं।

Contact Info

INFO UTTARAKHAND
Editor: Neeraj Pal
Email: [email protected]
Phone: 9368826960
Address: I Block – 291, Nehru Colony Dehradun
Website: www.infouttarakhand.com

To Top