ब्रेकिंग : शहीदों के परिजनों को मंत्री गणेश जोशी (Ganesh Joshi) ने किया सम्मानित

ब्रेकिंग : शहीदों के परिजनों को मंत्री गणेश जोशी (Ganesh Joshi) ने किया सम्मानित

आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजित कार्यक्रम में सम्मानित किये गये शहीदों के परिवारजन

 

देहरादून/इंफो उत्तराखंड

आज कौलगढ़ स्थित नेहरू ऑडिटोरियम में, आजादी के 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर “आजादी का अमृत महोत्सव” के तहत शहीदों तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिवारजनों क़ो सम्मानित करने का कार्यक्रम आयोजित आयोजित किया गया। कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री, गणेश जोशी मुख्य अतिथि तथा भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष अनिल गोयल विशिष्ठ अतिथि के तौर पर उपस्थित रहे।

 

 

कार्यक्रम के दौरान 40 शहीदों के परिवारजनों तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रामप्रताप बहुगुणा क़ो पौधा भेंट कर और सॉल ओढ़ा कर सम्मानित किया गया।

 

इन शहीदों के परिवारजनों किया गया सम्मानित

सूबेदार प्रदीप थापा, अजीत प्रधान, पंकज गुरुंग, सुरेंद्र सिंह थापा, श्यामलाल, बहादुर थापा, दिल बहादुर थापा, रमेश बहादुर थापा, नायक सुबाब सिंह, जयप्रकाश, अनुसूया प्रसाद भट्ट, गोविंद सिंह, नरपाल सिंह, दिलीप कुमार, अशोक कुमार थापा, मिथुन कुमार गुरुग, वीरम्बीर लामा, रमेश कुमार गुरुंग, हरिश्चंद्र सावन, राजदीप थापा, नारायण प्रसाद, राजू गुरुंग, मधु कुमार, अनूप सिंह, कमल कुमार छेत्री, राजेश गुरुंग, मेक बहादुर गुरुंग, शिवचरण प्रसाद, अरुण कुमार छेत्री, धीरेंद्र कुमार शाही, संदीप छेत्री, अनिल कुमार थापा, मेजर सूर्य प्रताप सिंह, मोहन सिंह, जगत बहादुर गुरुंग, कर्नल आर एस धामी!

यह भी पढ़ें 👉  दु:खद : खुद की खुशी के लिए की खुदखुशी, श्रीनगर नैथाना पुल से युवती ने मारी छलांग। देखें वीडियो

 

 

 

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने अपने सम्बोधन में शहीदों के परिजनों क़ो नमन करते हुए कहा कि, वह प्रधानमंत्री मोदी क़ो धन्यवाद करना चाहते हैं। क्युकि हम शहीदों क़ो तो वापस नहीं ला सकते, पर उन शहीदों के परिवारों क़ो वह वाजिब सम्मान जरूर दे सकते हैं जिसे उन्हें आज तक नहीं दिया गया। आज प्रधानमंत्री की पहल पर देश में पहली बार ऐसा हुआ है कि मोदी ने जवान और किसान दोनों क़ो सही मायनों में सम्मान मिल रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : इन 12 इंस्पेक्टरों के स्थानांतरण (transfer), मैदान से पहाड़ भेजे। देखें सूची

 

 

समाज के द्वारा दिए जाने वाले सम्मान की क्या कीमत होती है यह मैंने शहीद सम्मान यात्रा के दौरान बहुत नजदीक से महसूस किया है। शहीद सम्मान यात्रा के दौरान ऐसा कई बार हुआ कि माताएं बहने मुझसे लिपट कर रोने लगी, स्वाभाविक था कि इस भावुक पल में मेरी आंखें भी नम हो आई। पूछने पर उन बहनों ने बताया, कि इतना सम्मान और सामाजिक प्रतिष्ठा हमें आज तक कभी नहीं मिली जो आज शहीदों के सम्मान के इस कार्यक्रम के दौरान मिल रही है।

 

 

उन्होंने कहा कि जो सभ्यताएं अपने शहीदों का सम्मान करना भूल जाती है उनकी आने वाली पीढ़ियां उस सभ्यता का ही सम्मान करना भूल जाती हैं।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर : खाद्य मंत्री रेखा आर्य ने तलब की सचिन कुर्वे की गोपनीय प्रवष्टि से सम्बंधित मूल पत्रावली। देखें आदेश

 

 

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के अंदर वह संस्कार हैं, की आजादी के 75 साल को, अमृत महोत्सव के तौर पर मनाया जा रहा है। विगत 6 अप्रैल से प्रत्येक दिन समाज के भीतर विभिन्न सेवा कार्यक्रमों के माध्यम से पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता नागरिकों की सेवा में जुटे हैं। आज का यह पल हम सभी कार्यकर्ताओं के लिए गौरव का पल है, कि हम दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी का हिस्सा हैं।

 

 

इस दौरान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, राम प्रताप बहुगुणा, अनिल गोयल, सीताराम भट्ट, मेयर,सुनील उनियाल गामा, कैंट विधायक सविता कपूर, राजपुर विधायक, खजान दास, विनय गोयल, पूनम नौटियाल, राजीव गुरुंग, विनय गोयल, सुरेंद्र राणा, मंजीत रावत आदि उपस्थित रहे।

उत्तराखंड