उत्तराखंड

नई तकनीकों व विशेषज्ञों ने ग्राफिक एरा अस्पताल (Graphic Era Hospital) को विश्वास से जोड़ा, चिकित्सा को आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस से जोड़ेगे

Join our WhatsApp Group
  • नई तकनीकों व विशेषज्ञों ने ग्राफिक एरा अस्पताल को विश्वास से जोड़ा
  • चिकित्सा को आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस से जोड़ेगे

देहरादून। ग्राफिक एरा ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के चेयरमैन डॉ कमल घनशाला ने कहा कि ग्राफिक एरा अस्पताल में चिकित्सा को आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस और डेटा साईस से जोड़ा जा रहा है। देश विदेश की नई तकनीकों और सुपर स्पेशलिस्ट की सेवाओं ने ग्राफिक एरा के अस्पताल को कुछ ही समय में नई ऊंचाइयां दे दी हैं।

ग्राफिक एरा अस्पताल को एमबीबीएस की 150 सीटों के साथ मेडिकल कालेज की मान्यता मिलने के बाद चेयरमैन डो कमल घनशाला आज पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नेशनल मेडिकल कमीशन के पहले इंस्पेक्शन में ही ग्राफिक एरा अस्पताल (ग्राफिक एरा इंस्टीट्‌यूट ऑफ मेडिकल साईसेज) को सभी मानकों पर खरा पाकर वर्ष 2024-25 के एमबीबीएस कोर्स के लिए यह स्वीकृति दी गई है।

ग्राफिक एरा अस्पताल में दुनिया की नई तकनीकों और अनुभवी विशेषज्ञों के चलते जटिल रोगों के इलाज और दुर्लभ आपरेशनों के जरिये लोगों की जीवन रक्षा की एक नई राह खुल गई है। अब यहां वे आपरेशन भी हो रहे हैं, जो पहले उत्तराखंड में नहीं होते थे। अत्याधुनिक कैथ लैब, श्री टेक्सला एमआईआई, 128 स्लाइस के सीटी स्कैन समेत समेत एकदम नई तकनीकों का लाभ उत्तराखंड व आसपास के राज्यों के लोगों को मिल रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उपलब्धि : देहरादून स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने जीता Skoch Award 2024, जल प्रबंधन प्रणाली हेतु दिया गया अवार्ड

डॉ घनशाला ने कहा कि अत्याधुनिक इंफ्रास्ट्रेक्टर और उपकरणों के साथ ही बहुत अनुभवी विशेषज्ञों वाले ग्राफिक एरा अस्पताल में प्रोफेशनलिज्म के साथ अपनेपन के अहसास को जोड़ा गया है। छोटे बच्चों को पेस मेकर लगाने, दिल के छेद का उपचार, नई तकनीक से हार्ट के वाल्य बदलने, जापान की तकनीक पोयम के जरिये 25 से अधिक लोगों की अवरुद्ध आहार नली खोलने, आहार नली के कैंसर का बिना चीरा लगाये उपचार करने आदि के कारण ग्राफिक एरा अस्पताल लोगों के विश्वास से जुड़ गया है।

डॉ घनशाला ने कहा कि पिछले चार वर्षों से देश के सर्वश्रेष्ठ सौ विश्वविद्यालयों में जगह पाने वाली ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी को केंद्र सरकार ने वर्ष 2023 में देश भर में 55 वीं रैंक दी थी। इसी के एक अंग के रूप में स्थापित ग्राफिक एरा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज को भी टॉप पर ले जाने के लिए कार्य किया जा रहा है। डीम्ड यूनिवर्सिटी सीधे केंद्र के नियंत्रण में होने के कारण ग्राफिक एरा के मेडिकल कालेज में एमबीबीएस की सीटों का आवंटन सेंट्रल काउंसलिंग के जरिये केंद्र सरकार की मेडिकल काउंसलिंग कमेटी करेगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई पीसीएस–प्री की परीक्षा (PCS-Pre exam)

डो कमल घनशाला ने मेडिकल कालेज के रूप में मिली मान्यता को उत्तराखंड की उपलब्धि करार देते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी और स्वास्थ्य मंत्री डॉ धन सिंह रावत का आभार व्यक्त किया।

नई तकनीक से बिना चीरा लगाये आहार नली के कैंसर का इलाज

देहरादून, 11 जुलाई। ग्राफिक एरा अस्पताल के विशेषज्ञों ने नई तकनीक से आहार नली के कैंसर का उपचार करने में सफलता प्राप्त की है। देहरादून निवासी एक 60 वर्षीय बुजुर्ग को आहार नली के कैंसर की पुष्टि होने पर इस नई तकनीक से उपचार किया गया। आहार नली की सर्जरी से कैंसर का उपचार ज्यादा जोखिम वाला था। इसी वजह से अन्य स्थानों से इन्हें वापस भेज दिया गया था। इनकी पहले ही कीमो और रेडियो थैरेपी हो चुकी थी।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी जीत : उपचुनाव में मिली जीत पर कांग्रेसियों ने मनाया जश्न, भाजपा को बड़ा झटका...

इसके बाद फेफड़ों की समस्या और किसी तरल या ठोस कोई खाय पदार्थ न ले पाने के कारण मरीज का वजन तेजी से गिर रहा था। ग्राफिक एरा अस्पताल के विशेषज्ञों ने थोरेकोस्कोपिक तकनीक से बिना चीरा लगाये इन बुजुर्गवार का उपचार किया। इसके लिए कैमराटिप्ड मशीन की मदद से यह उपचार किया गया।

इस उपचार के पांच दिनों के भीतर ही बुजुर्ग भोजन करने लगे हैं। नई टेक्नोलॉजी के जरिये यह जटिल चिकित्सा आसान बना देने वाली ग्राफिक एरा अस्पताल के विशेषज्ञों की इस टीम में डॉ सचिन अरोड़ा, डॉ दयाशंकर राजगोपालन और डॉ कुलदीप सिंह यादव शामिल हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

"सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल"

सूचना एवं लोक संपर्क विभाग, देहरादून द्वारा सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल "इंफो उत्तराखंड" (infouttarakhand.com) का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड सत्य की कसौटी पर शत-प्रतिशत खरा उतरना है। इसके अलावा प्रमाणिक खबरों से अपने पाठकों को रुबरु कराने का प्रयास है।

About

“इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) प्रदेश में अपने पाठकों के बीच सर्वाधिक विश्वसनीय न्यूज पोर्टल है। इसमें उत्तराखंड से लेकर प्रदेश की हर एक छोटी- बड़ी खबरें प्रकाशित कर प्रसारित की जाती है।

आज के दौर में प्रौद्योगिकी का समाज और राष्ट्र के हित में सदुपयोग सुनिश्चित करना भी आपने आप में चुनौती बन रहा है। लोग “फेक न्यूज” को हथियार बनाकर विरोधियों की इज्ज़त, और सामाजिक प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। हालांकि यही लोग कंटेंट और फोटो- वीडियो को दुराग्रह से एडिट कर बल्क में प्रसारित कर दिए जाते हैं। हैकर्स बैंक एकाउंट और सोशल एकाउंट में लगातार सेंध लगा रहे हैं।

“इंफो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) इस संकल्प के साथ सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर उतर रहा है, कि बिना किसी दुराग्रह के लोगों तक सटीक जानकारी और समाचार आदि संप्रेषित किए जाएं। ताकि समाज और राष्ट्र के प्रति जिम्मेदारी को समझते हुए हम अपने उद्देश्य की ओर आगे बढ़ सकें। यदि आप भी “इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) के व्हाट्सऐप व ईमेल के माध्यम से जुड़ना चाहते हैं, तो संपर्क कर सकते हैं।

Contact Info

INFO UTTARAKHAND
Editor: Neeraj Pal
Email: [email protected]
Phone: 9368826960
Address: I Block – 291, Nehru Colony Dehradun
Website: www.infouttarakhand.com

To Top