उत्तराखंड

संज्ञान : “नशा मुक्ति केन्द्र” में युवती के साथ रेप” के मामले में राज्य महिला आयोग ने लिया बड़ा संज्ञान, कहा महिलाओं व किशोरियों के साथ इस तरह का उत्पीड़न शर्मनाक

Ad

देहरादून/इंफो उत्तराखंड़

उतराखण्ड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष महोदया कुसुम कण्डवाल ने 31 जुलाई के समाचार पत्रों में प्रकाशित खबर “नशा मुक्ति केन्द्र में युवती के साथ रेप” के सम्बन्ध में स्वतः संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी, देहरादून व जिलाधिकारी, हरिद्वार को पत्र प्रेषित किया है कि आरोपीगण हन्नी शर्मा व साथी रीतिका शर्मा निवासी दिल्ली, दोनों मिलकर नशा मुक्ति केन्द्र हैवन फॉर एंजल्स, आवास विकास, ऋषिकेश में संचालित कर रहे थे।

यह भी पढ़ें 👉  अच्छी खबर : महाराज ने हॉस्पिटल (Hospital) सहित अपने क्षेत्र को दी बड़ी सौगात, कई योजनाओं के किए लोकार्पण व शिलान्यास 

जहाँ रुड़की निवासी किशोरी के रेप का मामला सामने आया है। उन्होंने लिखा कि घटना की सूचना मिलने के उपरान्त मेरे द्वारा प्रकरण की जाँच हेतु थानाध्यक्ष, ऋषिकेश से दूरभाष पर वार्ता की गयी, उन्होंने यह बताया कि दोनों आरोपीगण ने ऋषिकेश से नशा मुक्ति केन्द्र को बन्द करके हरिद्वार में स्थानान्तरित कर दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  ग्राम पंचायतों में आ रही समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन, शीघ्र ही मांगे पूरी न होने पर प्रधान संगठन ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी 

घटना के सम्बन्ध में पुलिस उपमहानिरीक्षक (अपराध एवं कानून), देहरादून से भी आयोग अध्यक्षा कण्डवाल की वार्ता हुई है। उन्होंने नाराजगी जाहिर करते हुए लिखा कि महिलाओं एवं किशोरियों के साथ इस तरह का उत्पीड़न शर्मनाक है। पत्र में अध्यक्ष महोदय ने तत्काल उक्त पीड़िता के साथ उन्हें व्यक्तिगत रूप से सम्पर्क करते हुए एवं प्रकरण पर निम्न बिन्दुवार जाँच/कार्यवाही करते हुए आयोग को शीघ्र अवगत करवाने को निर्देशित किया है।

यह भी पढ़ें 👉  Good news : कैबिनेट मंत्री Satpal maharaj ने चौबट्टाखाल को दी 37 करोड़ की योजनाओं का बड़ा तोहफा 

1. नशा मुक्ति केन्द्र महिलाओं हेतु संचालित होने के उपरान्त भी पुरूषों का प्रवेश वर्जित क्यों नहीं था?
2 नशा मुक्ति केन्द्र का रजिस्ट्रेशन है या नहीं, यदि है, तो कहां का है?
3. नशा मुक्ति केन्द्र में उपचार हेतु चिकित्सक कौन व कहां से था?
4. नशा मुक्ति केन्द्र हरिद्वार में किस स्थान पर संचालित है?

To Top