बड़ी खबर : रुद्रप्रयाग निर्दलीय प्रत्याशी मातबर सिंह कंडारी पर जानलेवा हमला, शराब के नशे में की मारपीट

बड़ी खबर : रुद्रप्रयाग निर्दलीय प्रत्याशी मातबर सिंह कंडारी पर जानलेवा हमला, शराब के नशे में की मारपीट

रुद्रप्रयाग/इन्फो उत्तराखंड

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के ठीक एक दिन पहले रविवार देर रात रूद्रप्रयाग विधानसभा क्षेत्र में एक अनहोनी घटना सामने आई है। इस विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस ने प्रदीप थपलियाल को टिकट दिया है, तो वहीं पूर्व काबीना मंत्री मातबर सिंह कंडारी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। शनिवार को उक्रांद प्रत्याशी मोहित डिमरी पर आत्म घाती हमले के बाद रविवार देर रात पूर्व मंत्री मातबर सिंह कंडारी जब अपने कुछ साथियों के साथ सिद्धसौड़ जखोली से गुजर रहे थे, तभी कुछ उपद्रवियों ने शराब के नशे में उन पर हमला कर दिया।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : स्वास्थ्य मंत्री को सोशल मीडिया में मिली शिकायत तो अचानक औचक निरीक्षण पर पहुंचे अस्पताल। डॉक्टर और कर्मचारियों में हड़कंप

वहीं, हमला करने वाले में नरेंद्र सिंह पंवार, पुष्कर सिंह बिष्ट और वीरेंद्र सिंह बिष्ट सहित लगभग 8-10 लोगों के नाम बताये जा रहे हैं। इन सभी ने मिलकर मातबर सिंह कंडारी व उनके कार्यकर्ता कालीचरण रावत, मनोज रौथाण व पंकज बिष्ट के साथ गाली-गलौज की और धक्का-मुक्की की। साथ ही अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हुए अपशब्द भी कहे। साथ ही हमलावरों ने कालीचरण, मनोज व पंकज को यह भी कहा कि तुम कांग्रेस पार्टी का प्रचार करो, अगर नहीं करोगे तो तुम्हारे साथ बुरा अंजाम होगा। मातबर सिंह कंडारी के साथ मौजूद लोगों के साथ भी उपद्रवियों ने मारपीट करते हुए कई प्रकार की धमकियां दी।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : शिक्षा विभाग में एल०टी० शिक्षकों के स्थानांतरण (transfer)। देखें सूची

इस मामले में निर्दलीय प्रत्याशी मातबर सिंह कंडारी ने कहा कि इस तरह की घटनाएं उन्हें विचलित नहीं कर सकती. वे अपने पथ पर अडिग है और रूद्रप्रयाग के विकास के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं। कंडारी के साथ मौजूद लोगों ने बताया कि सभी हमलावर कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता है और प्रदीप थपलियाल के कहने पर ही उन्होंने ये सब किया है। गौरतलब है कि मातबर सिंह कंडारी ने भी कांग्रेस पार्टी से दावेदारी पेश की थी, लेकिन हाई कमान ने प्रदीप थपलियाल को अपना प्रत्याशी घोषित किया। इसके बाद मातबर सिंह कंडारी ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया।

उत्तराखंड