उत्तराखंड

अच्छी पहल : पर्वतीय क्षेत्रों में किसानों की आय को दोगुनी करने के लिए विभिन्न योजनाएं व ग्राउंड रूट पर किया जाएं कार्य : त्रिपाठी

Ad

देहरादून/ इंफो उत्तराखंड

प्रबंधक निदेशक यूसीएफ एमपी त्रिपाठी द्वारा आज सचिवालय स्थित सचिव सभागार में सचिव महोदय डॉक्टर बीवीआरसी पुरुषोत्तम को उत्तराखंड सहकारी संघ (यूसीएफ) एवं उत्तराखंड प्रादेशिक कोऑपरेटिव यूनियन( पीसीयू) से संबंधित विभाग की जानकारी एवं विभाग के कार्यों की प्रगति से सचिव महोदय को अवगत कराया।

त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि वर्तमान में उत्तराखंड सहकारी संघ के माध्यम से किसानों से धान खरीद एवं गेहूं खरीद की जाती है।
इसके साथ ही समितियों के द्वारा सोयाबीन रामदाना मंडुवा राजमा एवं झंगोरा की खरीद की जाती है प्रबंधक निदेशक त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि वर्ष वार उत्तराखंड सहकारी संघ के द्वारा कितना मुनाफा कमाया गया एवं कुल कितना अनाज खरीदा गया
साथ ही प्रबंध निदेशक द्वारा सचिव महोदय को जानकारी देते हुए बताया कि जल्द ही सहकारी समिति के माध्यम से देहरादून के चकराता से सब्जियों का क्रय कर आजादपुर मंडी में विक्रय की जाएंगी इससे किसानों को घर पर ही अपनी सब्जी पैदावार का उचित मूल्य मिल जाएगा इसको लेकर सभी तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई है।

यह भी पढ़ें 👉  गुड न्यूज : UKPSC ने पटवारी/लेखपाल भर्ती परीक्षा के प्रवेश पत्र (Admit card) किए जारी, 12 फरवरी को होगी परीक्षा, ऐसे करें अपना Admit card डाउनलोड..

त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि जल्द ही अन्य शहरों में यूसीएफ बाजार खोलने की योजना है जिसमें उत्तराखंड के पहाड़ी उत्पाद एवं सहकारी समितियों के माध्यम से निर्मित प्रोडक्ट को विक्रय किया जाएगा जिसे “पहाड़ से किचन तक” नाम दिया गया है
इन स्टोरों के माध्यम से पहाड़ों में उत्पादित समस्त उत्पादों को विक्रय किया जाएगा प्रथम चरण में देहरादून यूसीएफ सदन मैं यह स्टोर खोला जाएगा

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : इन पुलिस उपनिरीक्षकों के ट्रांसफर (sub inspector transfer), देखें लिस्ट

त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि प्रादेशिक कोऑपरेटिव यूनियन पीसीयू के माध्यम से सहकारिता विभाग का प्रचार प्रसार किया जाता है पीसीयू के माध्यम से ही वर्तमान में निर्मल गंगा योजना चलाई जा रही है जिसमें मिट्टी के कलश में देवप्रयाग संगम से ब्रह्म मुहूर्त में विधि-विधान मंत्रोच्चारण के साथ गंगाजल सहयोग राशि के साथ वितरित किया जाता है ।

सचिव डॉ बीवीआरसी पुरुषोत्तम द्वारा प्रबंधक निदेशक त्रिपाठी को निर्देश दिया कि पर्वतीय क्षेत्रों में किसानों की आय दोगुनी करने को लेकर और भी विभिन्न योजनाएं और ग्राउंड रूट पर कार्य किया जाए‌ निर्मल गंगा योजना पर और बेहतर कार्य किया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  अच्छी खबर : महाराज ने हॉस्पिटल (Hospital) सहित अपने क्षेत्र को दी बड़ी सौगात, कई योजनाओं के किए लोकार्पण व शिलान्यास 

साथ ही अन्य प्रदेशों में जहां सहकारिता विभाग बहुत ही बेहतर स्थिति में है उन प्रदेशों का अध्ययन कर वह मॉडल अपने राज्य में भी अपनाया जाए इस अवसर पर पान सिंह दीपक मेहता रोहित रस्तोगी समेत अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे। प्रबंधक निदेशक  त्रिपाठी जी द्वारा इस अवसर पर सचिव महोदय डॉक्टर बीवीआरसी पुरुषोत्तम को पुष्पगुच्छ भी भेंट किए गए।

To Top