Transfer : उत्तराखंड वन विभाग में आईएफएस अधिकारियों (IFS officers Transfer) के बंपर तबादले। देखें list

Transfer : उत्तराखंड वन विभाग में आईएफएस अधिकारियों (IFS officers Transfer) के बंपर तबादले। देखें list

देहरादून/इंफो उत्तराखंड 

उत्तराखंड वन विभाग में बड़े पैमाने पर आईएफएस अधिकारियों के ट्रांसफर (IFS Officers transfer) कर दिए गए हैं। इस संबंध में उप सचिव सत्य प्रकाश सिंह ने आदेश जारी किया।

स्थानांतरण आदेश में वन मुख्यालय से लेकर रेंजर के डीएफओ (DFO) सहित 3 दर्जन से अधिक आईएफएस अधिकारियों के तबादले (IFS Officers transfer) कर दिए हैं।

जानिए किसे क्या जिम्मेदारी मिली

समीर सिन्हा को प्रभारी प्रमुख वन संरक्षक वन्यजीव एवं मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

केएन राव को अपर प्रमुख वन संरक्षक पर्यावरण की जिम्मेदारी दी गई है।

बीपी गुप्ता को अपर प्रमुख वन संरक्षक प्रशासन की जिम्मेदारी दी गई है।

कपिल लाल को अपर प्रमुख वन संरक्षक परियोजनाएं एवं सामुदायिक वानिकी की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

जीएस पांडे को मुख्य कार्यकारी अधिकारी कैंपा की जिम्मेदारी दी गई है।

कपिल कुमार जोशी को अपर प्रमुख वन संरक्षक वन अनुसंधान प्रबंधन एवं प्रशिक्षण हल्द्वानी की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

एसएस रसाईली को अपर प्रमुख वन संरक्षक वन संरक्षण नोडल अधिकारी उत्तराखंड की जिम्मेदारी दी गई है।

नरेश कुमार को मुख्य वन संरक्षक प्रचार-प्रसार एवं ईकोटूरिज्म के साथ ही प्रबंध निदेशक उत्तराखंड इको टूरिज्म विकास निगम बनाया गया है।

मनोज चंद्रन को मुख्यमंत्री रक्षक निगरानी मूल्यांकन आईटी एवं आधुनिक करण की जिम्मेदारी मिली है।

तेजस्वनी सोनी को निदेशक वानिकी प्रशिक्षण की जिम्मेदारी दी गई है।

पराग मधुकर को मुख्य वन संरक्षक वन पंचायत की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

पीके पात्रों को मुख्य वन संरक्षक कुमाऊं की जिम्मेदारी दी गई है।

धीरज पांडे को कॉर्बेट पार्क का डायरेक्टर बनाया गया है।

राहुल को उत्तराखंड वन विकास निगम में प्रतिनियुक्ति दी गई है।

निशांत वर्मा को निदेशक नंदा देवी बायोस्फीयर रिजर्व की जिम्मेदारी दी गई है।

मानसिंह को मुख्य वन संरक्षक दक्षिण कुमाऊं की जिम्मेदारी मिली है।

साकेत बडोला को राजाजी नेशनल पार्क के डायरेक्टर पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

 

उत्तराखंड