आस्था : नवरात्रि के अष्टमी अवसर पर कई लोगों के घरों में गूंजी बेटियों की किलकारी। किसी ने कहा “लक्ष्मी” तो किसी ने कहा की “दुर्गा” हुई विराजमान

आस्था : नवरात्रि के अष्टमी अवसर पर कई लोगों के घरों में गूंजी बेटियों की किलकारी। किसी ने कहा “लक्ष्मी” तो किसी ने कहा की “दुर्गा” हुई विराजमान

देहरादून/इन्फो उत्तराखंड

नवरात्रि के अष्टमी अवसर पर कई लोगों के घरों व आंगन में बेटियों की किलकारी से गूंजे है। वहीं इस पावन पर्व पर बेटियों के जन्म से उत्साहित परिजनों ने कहा कि देवी मां उनके घर में स्वयं पधारी है। किसी ने कहा कि उनकी बेटी का जन्म लक्ष्मी के रूप में तो किसी ने साक्षात मां दुर्गा विराजमान के रूप में बताया।

 

 

जानकारी के अनुसार महिला अस्पताल में छह बेटियों ने अष्टमी पर जन्म लिया। लेकिन बेटों से अधिक अब बेटियों के जन्म पर झलकती खुशी की तस्वीरें समाज की बदलती सोच को दर्शा रही है। बेटियों के जन्म पर परिजन यहां बेहद उत्साहित नजर आ रहे हैं। सबसे अधिक गौर करने वाली बात तो यह कि बहुओं की सास यानी दादियों ने भी पोतियों का दिल खोलकर स्वागत किया। और अस्पताल मे बेटियों के जन्म का यह उत्सव अपने आप में एक अद्भुत था।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर : यहां नगर पंचायत (Nagar Panchayat) के अध्यक्ष हेम पंत ने दिया इस्तीफा। सरकार पर लगाये ये आरोप... जानिए क्यों?

 

 

हरीश वर्मा का कहना कि उनके घर पर भी एक देवी आई है। जिसको लेकर उनका खुशी का ठिकाना नहीं था। महिला अस्पताल की नर्सिंग आफिसर मंजू ने बताया कि अष्टमी के दिन उनके अस्पताल में छह कन्याओ ने जन्म लिया जिसमें से एक लड़के ने भी जन्म लिया है।

यह भी पढ़ें 👉  प्रशासनिक फेरबदल : यहां शासन ने किए 11 आईएएस (IAS) अधिकारियों के ट्रांसफर (transfer)। देखें लिस्ट

 

 

मंजू ने बताया कि महिला अस्पताल मे प्रीति देवी नगर, कीर्ति वर्मा राजा गाॅर्डन, अमृता ज्वालापुर, अुंजना बैराज कालोनी, करिश्मा शाहपुर ने अपनी बेटियों को जन्म दिया। जिसमें से आज नवमी पर भी कई जगह कन्या पूजन किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  दु:खद : खुद की खुशी के लिए की खुदखुशी, श्रीनगर नैथाना पुल से युवती ने मारी छलांग। देखें वीडियो

 

 

इन जगहों पर भक्तों ने की आरती

जिसमे से हरिद्वार में मां मनसा देवी, मां चंडी देवी, मां सुरेश्रवरी देवी, मां शीतला देवी समेत अन्या मंदिरों में भी श्रद्धालुओं ने पहुंचकर मां का आर्शीवाद लिया। और साथ ही देहरादून मे भी देवी मंदिरों में भक्तों को तांता लगा हुआ है।

उत्तराखंड