राजनीति

ब्रेकिंग : मुख्य सचिव से यूकेडी ने की ऊर्जा निगम (Energy Corporation) की भर्तियों की एसटीएफ जांच की मांग, सौंपा ज्ञापन

Join our WhatsApp Group

देहरादून /इन्फो उत्तराखंड 

ऊर्जा निगम की भर्तियों की जांच एसटीएफ से कराने के लिए उत्तराखंड क्रांति दल के पदाधिकारी मुख्य सचिव से मिले और ज्ञापन सौंपा।

हमने मुख्य सचिव एसएस संधु से कहा कि पंतनगर यूनिवर्सिटी द्वारा वर्ष 2016 में जल विद्युत निगम और वर्ष 2021 में पावर कॉरपोरेशन की भर्तियां कराई थी। सेमवाल धे कहा कि इनमें एक ही परिवार के कई लोगों की भर्ती हुई है और उसी परिवार के दूसरे सदस्य वीपीडीओ भर्ती घोटाले में जेल जा चुके हैं।

उत्तराखंड क्रांति दल महिला प्रकोष्ठ की केंद्रीय अध्यक्ष सुलोचना ईष्टवाल ने कहा कि जल विद्युत निगम की भर्तियों की जांच नहीं होती तो जांच की मांग को लेकर यूकेडी आंदोलन करेगा।

यूकेडी के संयुक्त सचिव राजेंद्र गुसांई ने बताया कि जल विद्युत निगम में भर्ती कई लोग एक ही क्षेत्र विशेष के हैं।

एसटीएफ जांच के लिए यूकेडी ने गिनाए यह आधार

उत्तराखंड सरकार ने पंतनगर यूनिवर्सिटी के द्वारा करवाई गई पुलिस एसआई भर्ती परीक्षा के जांच के आदेश दिए हैं जो कि एक बहुत अच्छी बात है और इसी यूनिवर्सिटी का एक रिटायर्ड अधिकारी भी एसटीएफ ने पकड़ा है जो कि इसी यूनिवर्सिटी के परीक्षा विभाग में वर्ष 2004/2005 से कार्यरत था, अब ये बात तो कोई भी समझ लेगा कि यदि इस युनिवर्सटी द्वारा करवाए गए 2015 एसआई के पेपर में गड़बड़ी हुई है तो और भी एग्जॉ्म में भी हुई होगी, लेखाकार का एग्जाम तो कैंसिल ही करना पड़ा, इसीलिए इस यूनिवर्सिटी के द्वारा करवाए गई विगत 10 वर्षों की नियुक्तियों की जांच की जाय।

इसी यूनिवर्सिटी के द्वारा ऊर्जा निगम की AE की भर्तियों के लिए एग्जाम करवाया गया जिसमें बड़ी गड़बड़ी हुई है। यूजेवीएनएल 2016/2021 यूपीसीएल 2021 ये बात समझने के लिए कुछ तथ्य हैं।

1 – यूजेवीएनएल 2016 में कई ऐसे लोगों का चयन हुआ है जिनके रिश्तेदार इसी निगम में कार्यरत हैं।

2- चयनित अभ्यर्थियों में से बहुत से एक ही जाति के एवं पंतनगर यूनिवर्सिटी के आस पास के क्षेत्रों से हैं।

3- यूजेवीएनएल 2016 के एग्जाम में बहुत से आईआईटी वाले बच्चे केवल कुछ ही मार्क्स से रुक जाते हैं पर जिन्होंने गेट जैसे एग्जाम को कभी क्वालीफाई तक नहीं किया वो इस एग्जाम में टॉप में आते हैं।

4- इन्हीं भर्तियों में एक ही परिवार के आपस के रिश्तेदार एवं भाई बहन यूजेवीएनएल और यूपीसीएल में चयनित होते हैं।

5- जो जाति विशेष और क्षेत्र विशेष के लोग हैं उन्हें लिखित परीक्षा में तो बहुत अच्छे मार्क्स दिए जाते हैं पर साक्षात्कार में वो बस पासिंग मार्क्स ही स्कोर कर पाते हैं।

6- जो जेई यूकेएसएससी के घोटालों में पकड़ा गया उसकी पत्नी इन्हीं निगमों में इसी यूनिवर्सिटी के द्वारा करवाए गए एग्जाम से AE के पद पर चयनित हुई।

7- इसी जेई ने स्वयं 2021 यूपीसीएल की परीक्षा में साक्षात्कार तक दिया पर इंटरव्यू में सेटिंग ना होने से बाहर हो गया।

8- यूपीसीएल की परीक्षा का पैटर्न ऐसा कुछ है कि इसमें इलेक्ट्रिकल इलेक्ट्रॉनिक ओर मैकेनिकल तीनों ब्रांचों के बच्चे योग्य और पेपर में तीनों ब्रांचों से प्रश्न पूछे जाते हैं तो ऐसे कोई अभ्यर्थी इतने मार्क्स ले आता है एक कॉमन पेपर में वो भी वो अभ्यर्थी जो की मैकेनिकल ब्रांच से है।

9- एक चयनित अभ्यर्थी मुहब्बा डबरा का है और कुछ अन्य अभ्यर्थी जिनके पिछले वर्षों की परीक्षाओं में मुश्किल से 30 नंबर भी नहीं आए 176 में से और वो अब अचानक से इन भर्तियों में टॉप कर जाते हैं.

10- यदि जांच की जाय तो चयनित छात्र एक ही क्षेत्र विशेष के हैं पंतनगर के आस पास से।

11- उत्तराखंड का छात्र यूपीसीएल में चयनित होते हैं पर अपने राज्य की इन भर्तियों में नहीं ,जहां यूपीसीएल के एग्जाम का लेवल उत्तराखंड के एग्जाम से कहीं बेहतर है।

अब इतना तो कोई भी समझ जाएगा कि इतने तथ्यों से कि इन भर्तियों में भ्रष्टाचार हुआ है और भी कई तथ्य है यदि यूजेवीएनएल 2016 की भर्तियों एवं पंतनगर यूनिवर्सिटी के द्वारा करवाए गई ऊर्जा निगम की भर्तियों की जांच की जाय तो सत्य जनता के सामने आ जाएगा।

"सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल"

सूचना एवं लोक संपर्क विभाग, देहरादून द्वारा सूचीबद्ध न्यूज़ पोर्टल "इंफो उत्तराखंड" (infouttarakhand.com) का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड सत्य की कसौटी पर शत-प्रतिशत खरा उतरना है। इसके अलावा प्रमाणिक खबरों से अपने पाठकों को रुबरु कराने का प्रयास है।

About

“इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) प्रदेश में अपने पाठकों के बीच सर्वाधिक विश्वसनीय न्यूज पोर्टल है। इसमें उत्तराखंड से लेकर प्रदेश की हर एक छोटी- बड़ी खबरें प्रकाशित कर प्रसारित की जाती है।

आज के दौर में प्रौद्योगिकी का समाज और राष्ट्र के हित में सदुपयोग सुनिश्चित करना भी आपने आप में चुनौती बन रहा है। लोग “फेक न्यूज” को हथियार बनाकर विरोधियों की इज्ज़त, और सामाजिक प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास लगातार कर रहे हैं। हालांकि यही लोग कंटेंट और फोटो- वीडियो को दुराग्रह से एडिट कर बल्क में प्रसारित कर दिए जाते हैं। हैकर्स बैंक एकाउंट और सोशल एकाउंट में लगातार सेंध लगा रहे हैं।

“इंफो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) इस संकल्प के साथ सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर उतर रहा है, कि बिना किसी दुराग्रह के लोगों तक सटीक जानकारी और समाचार आदि संप्रेषित किए जाएं। ताकि समाज और राष्ट्र के प्रति जिम्मेदारी को समझते हुए हम अपने उद्देश्य की ओर आगे बढ़ सकें। यदि आप भी “इन्फो उत्तराखंड” (infouttarakhand.com) के व्हाट्सऐप व ईमेल के माध्यम से जुड़ना चाहते हैं, तो संपर्क कर सकते हैं।

Contact Info

INFO UTTARAKHAND
Editor: Neeraj Pal
Email: [email protected]
Phone: 9368826960
Address: I Block – 291, Nehru Colony Dehradun
Website: www.infouttarakhand.com

To Top