उत्तराखंड

जिम्मेदार कौन : ….जब उड़ते हुए हेलीकॉप्टर के नजदीक पहुंचा प्लास्टिक का टुकड़ा, तो क्या हुआ फिर…? पढ़ें इस खास रिपोर्ट को

Ad

हरिद्वार/इंफो उत्तराखंड 

उत्तराखंड सरकार की तरफ से हरिद्वार प्रशासन द्वारा कांवड़ यात्रा में पहुंचे शिवभक्तों के स्वागत के लिए गुरुकुल नारसन से हर की पैड़ी तक शिवभक्तों पर हेलिकॉप्टर से पुष्प वर्षा करवाई गई।

शासन- प्रशासन की लापरवाही 

इस दौरान जब हेलिकॉप्टर हर की पैड़ी के ऊपर पहुंच कर पुष्पवर्षा करने लगा तो अचानक हवा में पॉलीथिन का एक बड़ा टुकड़ा उड़कर हेलीकॉप्टर के पंखों के पास जा पहुंचा। हालांकि गनीमत रही की हवा में उड़ता पॉलीथिन का टुकड़ा हेलीकॉप्टर के पंखे से नहीं टकराया, यदि पॉलीथिन का टुकड़ा हेलिकॉप्टर के पंखों से टकरा जाता, तो बड़ा हादसा हो सकता था।

यह भी पढ़ें 👉  Tripura Elections 2023 : भाजपा ने 48 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट की जारी, देखें पूरी लिस्ट 

हालांकि जिस समय हरकी पैड़ी पर हेलीकॉप्टर पुष्प वर्षा कर रहा था उस समय नीचे लाखों की तादाद में शिव भक्त मौजूद थे, जो कि हेलिकॉप्टर हादसे का शिकार हो सकते थे।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग न्यूज : सभी विश्वविद्यालयों में लागू होगा समान शैक्षिक कैलेंडर, मंत्री बोले : छात्रों के प्रवेश, परीक्षा, परिणाम, चुनाव व दीक्षांत समारोह में लाई जायेगी एकरूपता

बताया जा रहा है कि जब हेलिकॉप्टर से हरकी पैड़ी पर पुष्पवर्षा का रूट तय किया गया था, तब संभवतः स्थानीय प्रशासन ने हेलिकॉप्टर रूट के नीचे पॉलीथिन या कोई टेंट आदि पर गौर नहीं किया। जिससे कभी भी बड़ा हो सकता था।

यह भी पढ़ें 👉  दर्दनाक हादसा : पौड़ी- कोटद्वार राष्ट्रीय राजमार्ग पर जखेठी पीपली पानी के पास वाहन दुर्घटनाग्रस्त, दो की मौत, दो अन्य घायल 

यहाँ तक कि हेलिकॉप्टर की उड़ान भी काफी नीचे बताई जा रही है। ऐसे में हरकी पैड़ी पर प्रशासन की मुस्तेदी व सफाई व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह खड़े होते है कि पॉलीथिन कहाँ से उड़कर हेलिकॉप्टर के नजदीक आई।

Ad
Ad
To Top