आक्रोश : यहां दलित दूल्हे को ग्रामीणों ने जबरन घोड़े से उतारा। लगाए ये गंभीर आरोप

आक्रोश : यहां दलित दूल्हे को ग्रामीणों ने जबरन घोड़े से उतारा। लगाए ये गंभीर आरोप

अल्मोड़ा/ इंफो उत्तराखंड

अल्मोड़ा सल्ट क्षेत्र से बड़ी खबर सामने आ रही है जहां ग्राम थला तड़ियाल (मौडाली) में कुछ सवर्णों पर दलित दूल्हे को घोड़े से उतरने की कोशिश करने और बारातियों को रोकने का आरोप लगाया है। इस पर दूल्हे के पिता और अन्य लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन देकर कार्यवाही की मांग की है। साथ ही  ग्राम प्रधान ने दूल्हा पक्ष के आरोपों को सिरे से खारिज किया है।

यह भी पढ़ें 👉  इंसानियत : मसूरी में जाम में फंसी एंबुलेंस, स्थानीय लोगों व पीआरडी जवानों की कड़ी मशक्कत से निकाली गई एंबुलेंस

 

 

जानकारी के मुताबिक ग्राम थला तड़ियाल निवासी दर्शन लाल ने एसडीएम गौरव पांडे को दिए ज्ञापन में कहा कि सोमवार को बेटे विक्रम की बारात मजबाखली में गांव के लोगों ने रोक ली। आरोप यह भी है कि, ग्रामीणों ने दलित होने के कारण दूल्हे को घोड़े से जबरन उतारने की कोशिश की। जिससे कि ग्रामीणों ने दूल्हे को घोड़े से नहीं उतारने पर व बारातियों को मारने की भी धमकी दी।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : स्वास्थ्य मंत्री को सोशल मीडिया में मिली शिकायत तो अचानक औचक निरीक्षण पर पहुंचे अस्पताल। डॉक्टर और कर्मचारियों में हड़कंप

 

 

एसडीएम ने कहा कि राजस्व विभाग की टीम मामले की जांच कर रही है। उधर, ग्राम प्रधान विजय ध्यानी ने बताया कि मजबाखली के एक हिस्से में पहले से ही लोग विवाह के मौके पर घोड़े पर सवार नहीं होते हैं। ग्रामीणों ने दूल्हे से विनम्रतापूर्वक घोड़े से उतरने का आग्रह किया था। दूल्हा वहां से घोड़े से ही रवाना हुआ था।

उत्तराखंड