बड़ी खबर: शिक्षा विभाग ने शिक्षक व शिक्षिका को किया बर्खास्त। जानिए पूरा मामला

बड़ी खबर: शिक्षा विभाग ने शिक्षक व शिक्षिका को किया बर्खास्त। जानिए पूरा मामला

नैनीताल/इन्फो उत्तराखंड

शिक्षा विभाग से बड़ी खबर सामने आ रही है, जहां शिक्षक व  शिक्षिका का फर्जी प्रामण पाये जाने के मामले में शिक्षा विभाग ने दोनों को बर्खास्त कर दिया गया है।

 

मिली जानकारीे के अनुसार शिक्षा विभाग में फर्जी तरीके से नौकरी हासिल करने वाले शिक्षक व शिक्षिका के दस्तावेज फर्जी पाये गए। जिसमें शिक्षिका का हाईस्कूल प्रमाण गलत मिला वहीं शिक्षक ने नौकरी पाने कि लिए अपनी जन्मतिथि में छेड़छाड़ करके अपनी उम्र कम दिखाकर नौकर पा ली गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  Video : मंदाकिनी नदी में फंसे दो युवकों के लिए उत्तराखंड पुलिस बनी देवदूत

 

बर्खास्त की गई शिक्षिका भावना छिम्वाल हल्द्वानी के कालाढूंगी रोड स्थित प्राथमिक विद्यालय में कार्यरत रही। शिक्षका पूर्व में कोटाबाग में भी नौकरी कर चुकी थी। वहीं बर्खास्त किए गए शिक्षक मोहन चंद्र ब्रजवासी कोटाबाग ब्लाॅक के राजकीय प्राथमिक विद्यालय झलुवाजाला में कार्यरत रहे। उनके दस्तावेजों की जांच में पाया गया है। उन्होंने नौकरी के समय में 40 वर्ष की आयु सीमा पार कर ली थी। नौकरी पाने के लिए जन्मतिथि में छेड़छाड़ कर उम्र घटाकर शिक्षा विभाग में नौकरी पाई।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर : आईएएस (IAS) अधिकारी रामविलास यादव को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल। देखें वीडियो...

 

  • बर्खास्त किए जाने वाले दोनों शिक्षक व शिक्षिका करीब दो साल से निलंबित थे। दोनों के विरूद्ध विभागीय जांच गतिमान थी। अब जांच पूरी होने के बाद दोषी पाए जाने पर दोनों को बर्खास्त की कार्रवाई की जा रही है। डिईओ एचबी चंद्र ने बताया कि विभागीय जांच में गलत दस्तावेज पर दोनो को बर्खास्त कर दिया गया है।
यह भी पढ़ें 👉  इंसानियत : मसूरी में जाम में फंसी एंबुलेंस, स्थानीय लोगों व पीआरडी जवानों की कड़ी मशक्कत से निकाली गई एंबुलेंस

 

उत्तराखंड