ब्रेकिंग : चिटहेरा गांव भूमि घोटाले में पूर्व सीएम के बेटे की कंपनी भी शामिल : गरिमा मेहरा दसौनी

ब्रेकिंग : चिटहेरा गांव भूमि घोटाले में पूर्व सीएम के बेटे की कंपनी भी शामिल : गरिमा मेहरा दसौनी

इंफो उत्तराखंड/ देहरादून

उत्तराखंड कांग्रेस की गढ़वाल मंडल मीडिया प्रभारी गरिमा मेहरा दसौनी ने भू माफिया यशपाल तोमर पर कसे शिकंजे के बाद चिटहेरा गांव भूमि घोटाले को लेकर एक और बड़ा खुलासा किया है
दसोनी के अनुसार इस पूरे घोटाले के तार उत्तराखंड से जुड़ रहे हैं।

दो आईएएस और एक आईपीएस के रिश्तेदारों के नाम पर हुई खरीद के बाद अब पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के बेटे साकेत बहुगुणा का नाम भी आ रहा है। तोमर के साथ मिलकर साकेत की कंपनी ने गांव में अनुसूचित जाति के लोगों के नाम आवंटित सौ बीघा भूमि को खरीदा। पुलिस ने साकेत की कंपनी को भी तोमर के साथ सह आरोपी बनाया है।

दसौनी ने बताया कि पूरे प्रकरण में अब नया खुलासा हुआ है कि त्रिदेव प्राइवेट लिमिटेड नाम की जिस कंपनी को यशपाल तोमर के साथ सह आरोपी बनाया गया है वह उत्तराखंड के पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के सुपुत्र साकेत बहुगुणा की है। दसौनी ने कहा कि इससे साफ हो गया है कि भू माफिया तोमर के किस तरह से उत्तराखंड में बड़े बड़े नेताओं और अफसरों के साथ रिश्ते थे।

 

दसौनी ने कहा कि यूपी पुलिस अब इस सारे प्रकरण में जांच आगे बढ़ाएगी तो कुछ और नए तथ्य निकल कर आएंगे वरना उत्तराखंड की निष्क्रिय सरकार और शासन प्रशासन से तो किसी बात की उम्मीद करना ही बेकार है।

सोनी ने कहा कि इससे भी हतप्रभ करने वाली बात यह है कि पूरे मामले को उजागर हुए 24 घंटे बीत जाने के बाद भी न राज्य सरकार न मुख्यमंत्री ना शासकीय प्रवक्ता कोई भी इस पर मुंह खोलने को तैयार नहीं है किसी का भी कोई बयान नहीं निकल कर आ रहा है कोई अधिकारी अभी तक बर्खास्त नहीं किया गया है द सोनी ने कहा यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है जीरो टॉलरेंस की बात करने वाले आज किंकर्तव्यविमूढ़ है।

राजनीति