अच्छी खबर : 2 अक्टूबर से शुरू होगा खेल महाकुंभ का आयोजन (Khel Mahakumbh organized), 2.25 लाख खिलाड़ी करेंगे प्रतिभाग : रेखा आर्य

अच्छी खबर : 2 अक्टूबर से शुरू होगा खेल महाकुंभ का आयोजन (Khel Mahakumbh organized), 2.25 लाख खिलाड़ी करेंगे प्रतिभाग : रेखा आर्य

खिलाड़ियों की प्रतिभा को निखारने का खेल महाकुंभ साबित होगा बड़ा मंच-रेखा आर्य

न्याय, ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर होंगे आयोजन

देहरादून/इंफो उत्तराखंड 

आज खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्य ने विधानसभा स्थित भवन में आगामी खेल महाकुंभ को लेकर पत्रकार वार्ता आहूत की। पत्रकारों से बातचीत में खेल मंत्री ने बताया कि इस वर्ष खेल महाकुंभ का आयोजन 2 अक्टूबर से शुरू होगा जो कि 25 जनवरी तक चलेगा।

उन्होंने कहा कि खेल महाकुंभ का आयोजन न्याय, ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर किया जाएगा। इस प्रतियोगिता में भाग ले रहे खिलाड़ियों का पंजीकरण निःशुल्क रखा गया है। पंजीकरण ग्राम पंचायतों, प्राथमिक विद्यालयों, जूनियर हाईस्कूल, माध्यमिक विद्यालय, इंटर कॉलेज, युवा कल्याण, खेल, शिक्षा कार्यालयों में कराया जा सकता है, पंजीकरण फार्म भी उक्त कार्यालयों/संस्थानों से प्राप्त किए जा सकते हैं।

खेल महाकुम्भ 2022 का आयोजन न्याय पंचायत स्तर पर 02 अक्टूबर से 15 अक्टूबर 2022, विकासखण्ड स्तर पर 20 अक्टूबर से 05 नवम्बर 2022, जनपद स्तर पर 09 नवम्बर से 27 नवम्बर तथा राज्य स्तर पर 05 दिसम्बर 2022 से 25 जनवरी 2023 के मध्य कराया जाएगा।

राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को नकद पुरस्कार के अतिरिक्त सीएसआर के अन्तर्गत विशेष पुरस्कार की भी व्यवस्था की गई है।

खेल मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि इस वर्ष खेल महाकुम्भ 2022 के अन्तर्गत राज्य के पारम्परिक खेलों जिनमे मुर्गा झपट, अड्डू, गुल्ली डंडा, रस्सा कस्सी आदि शामिल हैं को भी पुनर्जीवित किया जाएगा जिन्हें की शो मैच के रुप में आयोजित किया जाएगा।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि खेल महाकुम्भ में अधिक से अधिक खिलाड़ियों की प्रतिभागिता सुनिश्चित हो सके इसके लिए पंजीकरण फार्म चिन्हित स्थलों पर उपलब्ध करा दिए गए हैं।

यह है आयोजन का स्तर और इस स्तर पर आयोजित किये जायेंगे खेल

खेल महाकुंभ के आयोजन न्याय पंचायत, ब्लॉक, जनपद और राज्य स्तर पर 4 स्तरों में आयोजित होंगे।

न्याय पंचायत – कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में कुल 662 न्याय पंचायतें हैं जिसमे सबसे बड़ी न्याय पंचायत सिसौना, सितारगंज हैं जिसमे की 22 ग्राम है।

न्याय पंचायत स्तर -खिलाड़ियों के लिए न्याय पंचायत स्तर पर आयु अंडर-14 और अंडर -17 है। इसमें कबड्डी,खो-खो,बॉलीवाल, एथेलेटिक्स खेल रखे गए हैं।

विकासखण्ड- राज्य में कुल 95 विकास खंड हैं ।विकास खंड स्तर पर खिलाड़ियों की आयु अंडर-14,अंडर-17,अंडर-21 रखी गई है जिसमे बालक व बालिका प्रतिभाग कर सकते हैं। विकास खंड स्तर पर कबड्डी, खो-खो, बॉलीवाल, एथेलेटिक्स, बैडमिंटन और बालक वर्ग में फुटबॉल खेलों को रखा गया है।

जनपद-जनपद स्तर पर खिलाड़ियों की आयु अंडर-14,अंडर-17,अंडर-21 रखी गई है जिसमे बालक व बालिका प्रतिभाग कर सकते हैं।जनपद स्तर पर कबड्डी,खो-खो, बॉलीवाल, एथेलेटिक्स, बैडमिंटन, बालक वर्ग में फुटबॉल, जुडो, बॉक्सिंग, टेबिल टेनिस, ताइक्वांडो, हैंडबाल, बास्केटबॉल और कराटे खेलों को रखा गया है।

राज्य स्तर-राज्य स्तर पर खिलाड़ियों की आयु अंडर-14,अंडर-17, अंडर-21 रखी गई है जिसमे बालक व बालिका प्रतिभाग कर सकते हैं। राज्य स्तर पर कबड्डी, खो-खो, बॉलीवाल, एथेलेटिक्स, बैडमिंटन, बालक वर्ग में फुटबॉल, जुडो, बॉक्सिंग, टेबिल टेनिस, ताइक्वांडो, हैंडबाल, बास्केटबॉल, कराटे और हॉकी खेलों को रखा गया है।

खेल मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि इस वर्ष पैंटाथलान का भी आयोजन किया जाएगा जिसमे की 17 से 21 आयु वर्ग के खिलाड़ी भारतीय सेना, अर्धसैनिक बल, पुलिस, होम गार्ड आदि में भर्ती हेतु निर्धारित मानक 1600 मीटर दौड़,लंबी कूद, ऊंची कूद,क्रिकेट बॉल थ्रो,चिनपअप विधाओं में राज्य के युवाओं को आकर्षित करने हेतु जनपद और राज्य स्तर पर आयोजित किया जाएगा।

खेल मंत्री रेखा आर्य ने सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि निश्चित ही इस खेल महाकुंभ के आयोजन से हमारे प्रदेश के प्रतिभावान खिलाड़ियों की प्रतिभा निखर कर सामने आएगी ।ऐसे आयोजनों से हम अपने प्रतिभावान खिलाड़ियों को चिन्हित करेंगे और उनकी दक्षता व प्रतिभा को निखारने के काम करेंगे।

हिल न्यूज़ खेल