बड़ी खबर : यहां झोलाछाप डॉक्टर की गलती से गर्भवती महिला की मौत। स्वजनों ने डॉक्टर पर लगाया आरोप

बड़ी खबर : यहां झोलाछाप डॉक्टर की गलती से गर्भवती महिला की मौत। स्वजनों ने डॉक्टर पर लगाया आरोप

हल्द्वानी/इंफो उत्तराखंड 

हल्द्वानी में एक गर्भवती महिला की अचानक से तबीयत बिगड़ने से उसकी मौत हो गई। जिसके बाद परिवार का रो-रो कर बुरा हाल है। वहीं बच्चों के सिर से मां का साया भी उठ गया।

वहीं मिली जानकारी के अनुसार मूलरूप से थाना अलीगंज, बरेली व हाल जीना कालोनी, छड़ायल निवासी महिपाल साप्ताहिक बाजार में सब्जी की दुकान लगाता है। महिपाल ने पुलिस को बताया कि उसकी 24 वर्षीय पत्नी अनिता सात माह की गर्भवती थी। जिसके बाद मंगलवार की शाम उसे सांस लेने में परेशानी हुई।

यह भी पढ़ें 👉  गुड न्यूज : उत्तराखंड पुलिस (कांस्टेबल) भर्ती प्रक्रिया में छूटे हुए युवाओं को एक और मौका। देखें कब से होंगे शारीरिक दक्षता

जिसके बाद परिजनों ने उसे नजदीकी छड़ायल चौराहे पर एक बंगाली डॉक्टर को दिखाया। आरोप है कि डाक्टर ने बिना बीपी नापे इंजेक्शन लगाकर घर भेज दिया। घर पहुंचते ही पत्नी की तबीयत और बिगडऩे लगी। आनन-फानन में उसे सुशीला तिवारी अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : शिक्षा विभाग में एल०टी० शिक्षकों के स्थानांतरण (transfer)। देखें सूची

मुखानी थानाध्यक्ष दीपक बिष्ट ने बताया कि गर्भवती के स्वजनों की ओर से तहरीर नहीं मिली है। तहरीर के बाद जांच कर आगे की कार्यवाही की जाएगी। बुधवार को नायब तहसीलदार हरीश चंद्र की मौजूदगी में पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम किया गया।

पुलिस ने बताया कि अनिता के तीन साल का एक बेटा है। बेटे ने होश भी नहीं संभाला है कि सिर से मां का साया उठ गया है। वहीं अबोध बच्चा मां की मौत से अंजान बना रहा।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : चारधाम यात्रियों के लिए पंजीकरण की फर्जी अफवाहों पर महाराज (Maharaj) का बड़ा बयान। देखें वीडियो

थानाध्यक्ष दीपक बिष्ट का कहना है कि तहरीर मिलने के बाद झोलाछाप डाक्टर पर शिकंजा कसा जाएगा। मामले में उसकी संलिप्ता मिली तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील की है कि झोलाछाप डाक्टर से इलाज न कराएं।

उत्तराखंड