उत्तराखंड

सहस्त्रधारा रोड़ चौड़ीकरण मामला : नैनीताल हाईकोर्ट ने एक बार फिर पेड़ों के काटन पर लगाई रोक, जानिए क्यों?

Ad

देहरादून/ इंफो उत्तराखंड 

हाईकोर्ट ने देहरादून सहस्त्रधारा रोड के चौड़ीकरण के लिए 2057 पेड़ों के प्रस्तावित कटान के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर गुरुवार को सुनवाई हुई।

इस मामले की सुनवाई के बाद मुख्य न्यायधीश विपिन सांघी एवं न्यायमूर्ति आरसी खुल्बे की खंडपीठ ने पेड़ों की कटान पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में कई अधिकारियों के ट्रांसफर (health department transfer), देखें पूरी सूची

वहीं गुरुवार को हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट ने राज्य सरकार सहित याचिकाकर्ताओं को 16 अगस्त तक जवाब पेश करने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  दर्दनाक हादसा : पौड़ी- कोटद्वार राष्ट्रीय राजमार्ग पर जखेठी पीपली पानी के पास वाहन दुर्घटनाग्रस्त, दो की मौत, दो अन्य घायल 

देहरादून- सहस्त्रधारा रोड चौड़ीकरण मामला :-

देहरादून निवासी समाजसेवी आशीष गर्ग ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर कहा है, कि जोगीवाला देहरादून से खिरसाली चौक होते हुए सहस्त्रधारा मार्ग के प्रस्तावित चौड़ीकरण के लिए 2057 पेड़ों का कटान किया जाना है।

यह भी पढ़ें 👉  PAN Card Can Become Inactive : 3 महीने बाद निष्क्रिय होने वाले हैं पैन कार्ड, आयकर विभाग ने दी ये चेतावनी

देहरादून घाटी और शहर पहले से ही जलवायु परिवर्तन की मार झेल रहा है। और इसलिए यहां पेड़ों की कटान पर रोक लगाई जानी चाहिए।

 

Ad
Ad
To Top