उत्तराखंड

डामटा accident : उत्तरकाशी के डामटा में हुआ दर्दनाक हादसा, अभी तक 26 लोगों की मौत, CM शिवराज सिंह चौहान ने की मुआवजे की घोषणा

Ad

उत्तरकाशी/ इंफो उत्तराखंड

यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर डामटा रिखाऊं खड्ड के पास कल देर शाम एक बड़ा दर्दनाक हादसा हो गया है। जिसमें अनियंत्रित होकर एक बस गहरी खाई में जा गिरी। बताया जा रहा है कि बस में 30 लोग सवार थे। अभी तक 26 शव बरामद किए गए हैं और चार यात्री घायल हैं।

सूचना मिलते ही पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची है। और बचाव कार्य में लग गई। जिसके बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मौके पर आपदा कंट्रोल रूम पहुंच गए। वहां उन्होंने घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। वहीं इस घटना के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान भी देर रात देहरादून पहुंच गए हैं, उन्होंने भी मृतकों के परिवारों को 5-5 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग : प्रशासनिक अधिकारियों से वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के पदों पर विभागीय पदोन्नति को लेकर जारी हुआ बड़ा आदेश, पढ़ें आदेश 

घायलों से मिलने पहुंचे शिवराज

देहरादून में आपदा नियंत्रण कक्ष के बाद ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बस दुर्घटना में घायल हुए लोगों से मिलने अस्पताल पहुंचे।

थानाध्यक्ष पुरोला अशोक कुमार ने बताया की 26 चारधाम यात्रियों से भरी बस रविवार शाम पौने सात बजे 200 फीट गहरी खाई में गिर गई। इस हादसे में 26 लोगों की मौत हो गई, जबकि चार घायल हैं। इनमें से 23 ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था जबकि तीन की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हुई। मृतकों की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं। बस में चालक और परिचालक और मध्यप्रदेश के जिला पन्ना के गांव जखला निवासी के साथ ही 28 तीर्थयात्री सवार थे।

यह भी पढ़ें 👉  द्वारीखाल : नीलम देवी के आकस्मिक निधन पर द्वारीखाल के BDC हॉल में ब्लॉक प्रमुख महेंद्र राणा समेत तमाम कार्यकर्ताओं ने की शोक संवेदना व्यक्त

हादसा यमुनोत्री हाईवे पर डामटा से करीब 5 किमी दूर रिखाऊं खड्ड क्षेत्र में हुआ। बस हरिद्वार से यमुनोत्री धाम के लिए चली थी। दुर्घटना की सूचना पर बड़कोट और पुरोला पुलिस के साथ ही एसडीआरएफ, एनडीआरएफ टीम पहुंची और रेस्क्यू अभियान शुरू किया।

पुरोला थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि सात घायलों को निकाला गया जिसमें तीन महिलाएं थीं। उन्हें उपचार के लिए सीएचसी नौगांव में भर्ती कराया गया। इनमें से तीनों ने ही इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। और चार घायलों का इलाज चल रहा है। गहरी खाई व अंधेरा होने से शवों को सड़क तक लाने में दिक्कत आ रही है। हादसा इतना भयावह था कि बस के परखच्चे उड़ गए। मौके पर पहुंची एसडीएम बड़कोट शालिनी नेगी, सीओ सुरेंद्र भंडारी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग (sub inspector transfer) : जनपद ऊधमसिंह नगर में उप निरीक्षकों के ट्रांसफर, देखें सूची

चारधाम की तीर्थयात्रा पर यमुनोत्री धाम जा रही बस के खाई में गिरने से मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के तीर्थयात्रियों की मृत्यु बेहद दुखद, पीड़ादायक है। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति प्रदान कर शोकाकुल परिजनों को गहन दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करे। मैं और मेरी टीम उत्तराखंड सरकार व स्थानीय जिला प्रशासन से संपर्क में है। घायलों के इलाज और मृतकों के शव को मध्य प्रदेश लाने की व्यवस्था की जा रही है। शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री, मध्य प्रदेश सरकार

Ad
Ad
To Top